• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • She Came To Me After Getting Upset With Her Husband, Father brother Did A Lot Of Wrong With Sister, Will Never Go To Her House.

बेटी से रेप कर हत्या, बड़ी बहन बोली:पति से परेशान होकर आई थी, पिता-भाई ने उसके साथ बहुत गलत किया, उनके घर कभी नहीं जाऊंगी

भोपालएक वर्ष पहले

भोपाल में लव मैरिज करने पर बेटी के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में मृतका की बड़ी बहन ने बड़ा खुलासा किया है। उसने बताया कि बहन ने ऊंची जाति के युवक से शादी की थी। पति से वह परेशान होकर वह 21 अक्टूबर को मेरे पास आई थी। मेरे पिता-भाई ने उसके साथ क्रूरता की हदें पार कर दी। पिता-भाई ने उसके साथ बहुत गलत किया। उन्हें कड़ी सजा मिले। पूरा समाज गलत कह रहा है। ऐसे क्रूर पिता के घर कभी नहीं जाऊंगी।

रातीबड़ पुलिस को पिछले रविवार दोपहर समसगढ़ के जंगल में एक महिला और बच्चे का शव पड़े होने की सूचना मिली थी। पुलिस ने महिला की पहचान बिलकिसगंज निवासी 25 साल की युवती और उसके बच्चे के रूप में की थी। पुलिस ने मामले में युवती के पिता और भाई को गिरफ्तार किया था। पिता ने बेटी के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या की थी। वह बेटी से समाज से बाहर लव मैरिज करने की बात को लेकर नाराज था।

जानिए बड़ी बहन ने क्या कहा...
मैं चार साल से रातीबड़ में किराए का मकान लेकर अकेली रह रही हूं। छोटी बहन ने सालभर पहले ऊंची जाति के युवक से लव मैरिज की थी। हम छोटी जाति के थे, इसलिए शादी के बाद उसका पति परेशान करने लगा। उसका लड़का बीमार था। वह 21 अक्टूबर को ससुराल से मेरे पास आई। 5 नवंबर को बच्चे की तबीयत अधिक खराब होने पर मैंने पिता को फोन लगाकर बताया। पापा और भाई अगले दिन सुबह मेरे कमरे पहुंचे। तब तक बच्चे की मौत हो गई थी। पापा-भाई ने बच्चे को दफनाने के बहाने बहन को साथ में लेकर बाइक से चले गए। अगले दिन भाई घर पहुंचा। मैंने उससे बहन के बारे में पूछा। उसने बताया कि पापा ने उसका काम खत्म कर दिया है। मैं यह सुनकर डर गई। हाथ-पैर कांपने लगे। बाद में मैंने पापा को फोन कर बहन के साथ ऐसा करने की वजह पूछी। पापा ने कहा कि उसकी वजह से समाज में बदनामी हुई है, इसलिए उसका काम खत्म कर दिया है। इसके बाद मैं डर गई। किसी से नहीं बताया।
-मृतका की बड़ी बहन ने जैसा बताया

शादी के बाद पहली बार पिता से मिली
मृतका की बड़ी बहन ने बताया कि शादी के बाद वह पहली बार पापा से मेरे घर में मिली। उसे नहीं पता था कि पापा उसकी हत्या कर देंगे। पापा भी उससे मेरे घर में अच्छे से बात कर रहे थे, इसलिए वह घर जाने को राजी हो गई। भाई भी पूरे षड्यंत्र में शामिल था। बहन पापा के घर से जल्द वापस आने की बात मुझसे कही थी, लेकिन रास्ते में पिता ने उसे मार डाला।

मां को भी थी हत्या की जानकारी
पापा ने मेरे अलावा मम्मी को भी बहन की हत्या की जानकारी दी थी। पापा ने जब यह बताया तो मां डर गई। वह पापा पर नाराज हो रही थी, लेकिन पापा ने उसे भी इतना डराया कि वह चुप रही। पापा को भरोसा था कि उनके गुनाह छिपे रहेंगे। लेकिन भगवान ने उन्हें उनके गुनाह की सजा दे दी। वह पुलिस से नहीं बच पाए।

फोन काटने से शक हुआ, पकड़ा गया
हत्याकांड का पर्दाफाश करने वाले रातीबड़ थाना प्रभारी सुधेश तिवारी ने बताया कि महिला की लाश मिलने के बाद जब उसकी पहचान हुई तो मैंने उसके पिता को फोन लगाया। कुछ सेकेंड बात होने के बाद मैंने फोन काट दिया। इसके बाद उसके पिता ने फोन रिटर्न नहीं किया। मुझे शक हुआ कि एक पिता बेटी को लेकर इतना गैरजिम्मेदार कैसे हो सकता है। शक होने पर तुरंत ही पुलिस को भेजकर उसे थाने लेकर आया। शुरुआत में वह गुमराह करता रहा। सख्ती से पूछने पर बताया कि बेटी की उसने हत्या कर दी है। वह बेटी को मानसिक, शारीरिक हर तरह की प्रताड़ना देने की पहले से ही साजिश रच रखी थी।

यह भी पढ़ें...
लव मैरिज करने पर बेटी से रेप, मर्डर:चिट्‌ठी ने खोला ऑनर किलिंग का राज; भागकर शादी की तो बाप-भाई ने क्रूरता की हदें पार कीं