पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Shortage Of Vaccine In Bhopal; Only 20 Thousand Will Get The Vaccine At 115 Centers; It Is Necessary To Apply 7.26 Lakh Vaccines Daily To Meet The Target Of First Dose In The State In September.

MP में आज 5 लाख को वैक्सीन:भोपाल में वैक्सीन की शार्टेज; 115 केंद्र पर 20 हजार को ही लगेगा टीका; प्रदेश में सितंबर में पहला डोज का लक्ष्य पूरा करने रोज 7.26 लाख टीके लगाना जरूरी

भोपाल9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मध्यप्रदेश में कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीनेशन पर सरकार जोर दे रही है। प्रदेश में सोमवार को 5 लाख को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं, भोपाल में वैक्सीन की शार्टेज होने से 115 केन्द्रों पर 20 हजार लोगों को ही वैक्सीन लगेगी। सरकार ने 18+ की पात्र 5.49 करोड़ आबादी को पहला डोज सितंबर माह में लगाने का लक्ष्य तय किया गया है। अभी प्रदेश में पहला डोज 4.18 करोड़ लोगों को लगा है। यानी अभी 1.30 करोड़ लोग पहला डोज लगाने से अभी छूट हुए हैं। ऐसे में साफ है कि सितंबर में पहला डोज सभी को लगाने का लक्ष्य पाने के लिए अगले 18 दिनों तक रोज 7.26 टीके लगाना होगा।

भोपाल में सोमवार को सिर्फ 20 हजार टीके ही लगेगी। यहां पर करीब 5 हजार कोवीशील्ड और 15 हजार कोवैक्सीन ही स्टोर में है। पिछले चार-पांच दिनों से कोवीशील्ड की सप्लाई नहीं हुई है। दोनों वैक्सीन के 115 सेंटर पर पहला और दूसरा दोनों डोज लगेंगे। भोपाल में कुल 25 लाख 55 हजार 337 लोगों को वैक्सीन लगी है। इसमें पहला डोज 18 लाख 4 हजार 77 लोगों को लगा है। वहीं, दूसरा डोज 7 लाख 51 हजार 260 लोगों को लगा है। भोपाल में पहला डोज का टॉरगेट 15 सितंबर तक पूरा करने का लक्ष्य तय किया गया है, जबकि अभी भी पहला डोज लगाने से करीब 1 लाख 46 हजार के आसपास लोग छूटे हुए हैं।

प्रदेश में अब तक 5 करोड़ 16 लाख 47 हजार 96 लोगों को वैक्सीन लगी है। इसमें 4 करोड़ 18 लाख 23 हजार 155 लोगों को पहला डोज और 98 लाख 23 हजार 941 लोगों को दूसरा डोज लगा है। इसमें 18-44 उम्र के 3 करोड़ 4 लाख 89 हजार 178 नागरिकों को। 45-60 उम्र के 1 करोड़ 32 लाख 20 हजार 110 और 60 उम्र से ऊपर के 79 लाख 37 हजार 808 लोगों को वैक्सीन लगी है।

राज्यटीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ने कहा कि सितंबर में पहला डोज के पात्र लोगों का लक्ष्य पूरा कर लिया जाएगा। किसी भी जिले में वैक्सीन की शार्टेज नहीं है। प्रदेश में वैक्सीनेशन के महाअभियान में वैक्सीन लगाने की रफ्तार को बढ़ाकर लक्ष्य पूरा किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...