• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Coronavirus Bhopal: Bhopal Coronavirus Latest Updates/Total COVID 19 Cases Death Toll In Madhya Pradesh Bhopal

भोपाल में कोरोना / अब तक 96 पॉजिटिव: स्वास्थ्य और पुलिस महकमे में सबसे ज्यादा संक्रमित, कलेक्टर और डीआईजी ने भी जांच कराई, 84 इलाके सील

पुलिसकर्मियों को संक्रमण से बचाने के लिए भोपाल में फुल सैनिटाइजर लगाए गए हैं। मशीन के नीचे खड़े होकर फुल बॉडी सैनिटाइज होकर ही वह ड्यूटी के लिए भेजे जा रहे हैं। पुलिसकर्मियों को संक्रमण से बचाने के लिए भोपाल में फुल सैनिटाइजर लगाए गए हैं। मशीन के नीचे खड़े होकर फुल बॉडी सैनिटाइज होकर ही वह ड्यूटी के लिए भेजे जा रहे हैं।
X
पुलिसकर्मियों को संक्रमण से बचाने के लिए भोपाल में फुल सैनिटाइजर लगाए गए हैं। मशीन के नीचे खड़े होकर फुल बॉडी सैनिटाइज होकर ही वह ड्यूटी के लिए भेजे जा रहे हैं।पुलिसकर्मियों को संक्रमण से बचाने के लिए भोपाल में फुल सैनिटाइजर लगाए गए हैं। मशीन के नीचे खड़े होकर फुल बॉडी सैनिटाइज होकर ही वह ड्यूटी के लिए भेजे जा रहे हैं।

  • भोपाल में मंगलवार को 21 और आज 12 नए मरीज मिले, इनमें स्वास्थ्य विभाग के 14 कर्मचारी और 7 पुलिसकर्मी 
  • प्रशासन ने शहर के 84 क्षेत्रों को कैंटोनमेंट एरिया घोषित किया, इसमें 11 नए स्थान शामिल हैं 

दैनिक भास्कर

Apr 08, 2020, 10:35 PM IST

भोपाल. राजधानी में बुधवार को कोरोना के 12 नए मामले सामने आए। इनमें एक पत्रकार भी है। मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने इसकी पुष्टि की। कोरोना का संक्रमण पिछले पांच दिन में बढ़कर 92 तक पहुंच गया। इन पांच दिनों में हर रोज औसतन 20 पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें सबसे ज्यादा स्वास्थ्य कर्मी और पुलिस कर्मियों में संक्रमण फैला है। इसलिए भोपाल में कई अफसर ड्यूटी के बाद घर नहीं जा रहे हैं। उन्हें रोक दिया है। यहां 2100 पुलिसकर्मियों को होटल, लॉज और गेस्ट हाउस में ठहराया गया है, ताकि उनके परिवारों को संक्रमण से बचाया जा सके।

इधर, लगातार फैलते कोरोना संक्रमण को देखते हुए कलेक्टर तरुण पिथोड़े और डीआईजी इरशाद वली ने भी कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल दिए। अब तक मिले संक्रमित लोगों में दो मरीज इलाज के बाद स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। एक संक्रमित व्यक्ति की मौत हो गई है। वहीं बुधवार को भोपाल के सीएमएचओ डॉ. सुधीर डेहरिया का तबादला हो गया, उनकी जगह सीहोर के सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी को भोपाल का नया सीएमएचओ बनाया गया है। बुधवार को पुलिस ने टोटल लॉकडाउन का पालन कराने के लिए फ्लैग मार्च निकाला। 

लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर 674 पर केस 

भोपाल में 84 पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद इतने ही क्षेत्रों को कैंटोनमेंट एरिया घोषित कर दिया गया है। यहां पर एक किलोमीटर के दायरे में आने-जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। नगर निगम की टीमें इन क्षेत्रों को सैनिटाइज करने का काम कर रही हैं। भोपाल पुलिस ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध विगत 24 घंटे में 62 केस दर्ज किए हैं। जिले में 22 मार्च से अब तक  674 केस दर्ज किए गए। 

भीलवाड़ा या कर्नाटक मॉडल, जहां भी अच्छा काम हुआ, उसे राज्य में अप्लाई करें

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए हैं कि भोपाल और इंदौर शहरों में कोरोना के अधिक प्रकरण मिले हैं, इसलिए इनकी सीमाओं को और कड़ाई से सील किया जाए। आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध हो। संक्रमण रोकने के लिए सर्वे कार्य और कोरोना टेस्टिंग गहनता से की जाए। प्रदेश में कोरोना संक्रमण को पूरी तरह से रोकना है और मरीजों को ठीक करना है। इसके लिए भीलवाड़ा, कर्नाटक मॉडल और जहां भी अच्छे कार्य हुए हैं, उनकी जानकारी मंगाएं और प्रदेश में लागू करें। अधिकारी अपना पूरा टैलेंट इस काम में लगा दें। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने कोरोना का प्रोटोकॉल और गाइडलाइन तैयार की है। इसका पालन किया जाए। इनकी जानकारी फील्ड स्टाफ तक पहुंचाई जाए। जो व्यक्ति होम क्वारैंटाइन में हैं उन्हें ट्रेस करने के लिए फेस रिकॉग्निशन टेक्निक का प्रयोग करें।

स्वास्थ्य और पुलिस महकमे में फैले संक्रमण की होगी जांच
भोपाल में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों के संक्रमित पाए जाने के बाद संक्रमण कैसे फैला, इसकी जांच के आदेश दिए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग के 34 कर्मचारी और 10 पुलिसकर्मी संक्रमित हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग में प्रमुख सचिव पल्लवी जैन गोविल, हेल्थ कॉर्पोरेशन के एमडी रहे विजय कुमार के साथ डाॅ. वीणा सिन्हा और अन्य जो भी अधिकारी, डॉक्टर व कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव हुए हैं, उनकी कॉन्टैक्ट हिस्ट्री की पड़ताल होगी। 

संक्रमण कहां से फैला, इसकी जांच जरूरी: स्वास्थ्य आयुक्त 
स्वास्थ्य आयुक्त फैज अहमद किदवई ने कहा है कि संक्रमित अफसरों की कॉन्टैक्ट हिस्ट्री और इसके क्रम की पड़ताल करने के निर्देश जिला प्रशासन को दिए गए हैं। असलियत सामने आने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। किदवई ने बताया कि परस्पर संपर्क से ही कोरोना संक्रमण का विस्तार होता है। प्रभावित व्यक्ति किन लोगों से किस क्रम में मिले और यह कहां से आरंभ हुआ, इसकी ट्रेसिंग आवश्यक है।

30 हजार से अधिक ऑनलाइन बुकिंग, होम डिलेवरी सिर्फ 11 हजार 

शहर में टोटल लॉक डाउन के दौरान किराने की होम डिलेवरी के लिए दो दिन में 30 हजार से अधिक ऑनलाइन बुकिंग आई है जिनमे से 11 हजार से अधिक घरों में होम डिलीवरी के माध्यम से फल, सब्जी, और किराना के समान को उपलब्ध कराया जा चुका है। इसमें से 5500 डिलेवरी मंगलवार को की गई। मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी डीके वर्मा ने बताया कि दैनिक उपयोग के सामान की डिलेवरी को प्राथमिकता दी जा रही है। प्रशासन ने सलाह दी है कि लोग केवल बहुत जरूरी सामान ही बुक कराएं ताकि सभी जरूरतमंदों को समय पर सामान मिल सके।धिक ऑन लाइन बुकिंग आई है जिनमे से 11 हजार से अधिक घरों में होम डिलीवरी के माध्यम से फल, सब्जी, और किराना के समान को उपलब्ध कराया जा चुका है। उधर, भोपाल किराना व्यापारी महासंघ के महासचिव अनुपम अग्रवाल ने बताया कि शहर के थोक बाजारों में किराना सामग्री का भरपूर स्टॉक है। लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। लॉकडाउन खुलते ही सप्लाई शुरू हो जाएगी।

मप्र में 349 कोरोना संक्रमित
मध्य प्रदेश में 349 कोरोना संक्रमित हो गए हैं। इनमें एक पॉजिटिव यूपी के कौशांबी का रहने वाला है। इसके अलावा, इंदौर 173, भोपाल 94, मुरैना 13, उज्जैन 13, जबलपुर 8, ग्वालियर 6, होशंगाबाद 5, खरगोन 4, बड़वानी 3, शिवपुरी और छिंदवाड़ा में 2-2, रायसेन, विदिशा, बैतूल, श्योपुर में एक-एक संक्रमित मिला। अब तक इंदौर में 15, उज्जैन में 5, भोपाल, छिंदवाड़ा, खरगोन में एक-एक की मौत हो गई। इसमें इंदौर 14, जबलपुर 3, भोपाल 2, शिवपुरी और ग्वालियर में एक-एक मरीज स्वस्थ होने पर घर भेज दिए गए हैं। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना