नेहरू नगर के बालिका गृह में जमकर हंगामा:प्यारे मियां द्वारा यौन शोषण की शिकार पांच नाबालिगों ने अधीक्षिका को पीटा

भोपालएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बालिका गृह में नाबालिगों ने अधीक्षिका को पीटा - Dainik Bhaskar
बालिका गृह में नाबालिगों ने अधीक्षिका को पीटा
  • अधीक्षिका बोली- सामान नहीं दिया तो लड़कियों ने हमला कर दिया

प्यारे मियां के द्वारा यौन शोषण की शिकार पीड़िताओं ने शुक्रवार को दोपहर के वक्त नेहरू नगर स्थित बालिका गृह में जमकर हंगामा किया। जब अधीक्षिका उन्हें रोकने गई तो उन्होंने उनके साथ भी मारपीट की। पांचों नाबालिग घर जाने की जिद कर रही थीं। महिला एवं बाल विकास विभाग के सूत्रों का कहना है कि नाबालिगों को उनके परिजनों ने उकसाया था।

दरअसल नाबालिगों से मिलने के लिए उनके परिवार के 15 लोग मिलने के लिए पहुंचे थे। वे अपनी बच्चियों से मिलने की जिद कर रह थे लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते उन्हें मिलने की इजाजत नहीं मिली। इसके बाद परिजनों ने बच्चियों को खाने का समान दिया। जब सामान की जांच की गई तो उसमें मोबाइल, मेकअप का सामान और अन्य पाया गया।

बालिका गृह की अधीक्षिका अंतोनिया कुजूर एक्का ने नाबालिगों के परिजनों के दिए सामान को चैक किया। उन्होंने उसमें मोबाइल और मेकअप आदि का सामान पाया। इसे परिजनों को लौटा रही थी कि लड़कियों ने उनके हाथ से सामान छुड़ाने की कोशिश की।

जब उन्होंने सामान नहीं दिया तो लड़कियों ने उन पर हमला कर दिया। उसके बाद उन नाबालिगों ने अन्य बच्चियों को पीट दिया। बालिका गृह में तोड़फोड़ की। नाबलिगों को शांत करने के लिए अधीक्षिका को कमला नगर थाना पुलिस को बुलाना पड़ा। पुलिस ने नाबालिगों और उनके परिजनों को समझाइश दी जिसके बाद मामला शांत हुआ। हालांकि इस मामले में अधीक्षिका अंतोनिया कुजूर एक्का ने कुछ भी कहने से इंकार किया है।

अभी काउंसलिंग करा रहे हैं

विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी आरसी त्रिपाठी ने बताया कि नाबालिगों ने अधीक्षिका पर हमला किया। छोटी बच्चियों को पीटा। इस संबंध में पुलिस को सूचित किया। चूंकि नाबालिग विक्टिम हैं, इसलिए केस दर्ज नहीं कराया। उनकी काउंसलिंग की जा रही है।

खबरें और भी हैं...