पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मरीजों के लिए खाने की व्यवस्था:80 लोगों की टीम कोविड मरीजों के लिए रोज बनाती है खाने के 1500 पैकेट

प्रवीण पाण्डेय | भोपाल2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुबह 5 से रात 8 बजे तक जुटे रहते हैं टीम के सदस्य, हर एक की जिम्मेदारी तय, ताकि मरीजों को मिल सके घर जैसा खाना

हमीदिया अस्पताल के कोविड सेंटर में भर्ती मरीजों के लिए यहां रोजाना 1500 से अधिक खाने के पैकेट बनाए जाते हैं। खाने के पैकेट तैयार करने के लिए होटल पलाश रेसीडेंसी की यह टीम सुबह 5 बजे जुट जाती है। इस टीम में एक कॉर्पोरेट शेफ समेत लगभग 80 लोग हैं जो इन मरीजों को ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर तैयार करते हैं। होटल पलाश के मैनेजर अजय श्रीवास्तव ने बताया कि हमारा पूरा फोकस रहता है कि मरीजों को घर जैसा खाना मिल सके। इसके लिए ज्यादा तेल-मसालों का उपयोग नहीं किया जाता। शेफ सिद्धार्थ वीरेंद्र ने बताया कि रोटी बनाने के लिए 18 से 20 लोग जुटते हैं। इसके अलावा 12 लोगों की टीम चावल, दाल और कड़ी पर काम करती है। कुल 35 लोगों की टीम फूड की पैकिंग करने में लगी होती है।

मरीजों को मुफ्त में मिलता है यह खाना

इस तरह से पूरा खाना बनने से लेकर डिस्पैच होने तक में करीब साढ़े तीन घंटे लगते हैं। होटल के बैंक्वेट हॉल में खाने की पैकिंग की जाती है। टीम के हर सदस्य को 9 घंटे की शिफ्ट में काम करना पड़ता है। हमीदिया अस्पताल के मरीजों को यह खाना मुफ्त दिया जाता है।

रोज 100 किलो आटे की होती है खपत

शेफ सिद्धार्थ ने बताया कि हमारी टीम अप्रैल के पहले सप्ताह से लगातार इस काम में जुटी हुई है। शुरुआत में ऑर्डर कम आता था तो उस हिसाब से लोगों की संख्या कम थी। लेकिन बाद में काम करने वाले लोगों की संख्या को बढ़ाया गया। जहां तक बात अनाज के खपत की बात है तो एक मील में 35 किलो चावल, 50 किलो आटा और 15 दाल की खपत होती है। यानि लंच और डिनर को मिलाकर 70 किलो चावल और 100 किलो आटा प्रतिदिन खपत होता है।
ताकि समय पर फूड डिलीवर हो जाए
एक साथ इतने बड़ी संख्या में लोगों को खाना बनाकर पैक करके देना आसान नहीं है। इसलिए अगर 600 लोगों के लंच के लिए ऑर्डर आता है तो उसमें मैं 100-100 के बैच में डिवाइड करके तैयारी की जाती है, ताकि समय से फूड डिलीवर किया जा सके।

होम डिलीवरी फूड; सबसे ज्यादा ऑर्डर कोलार, अरेरा कॉलोनी से मिल रहे

एमपी टूरिज्म की ओर से हाल ही में होम डिलीवरी फूड की व्यवस्था शुरू की है। ऐसे समय में जब सभी रेस्टोरेंट, कैफे सहित अन्य फूड चैन बंद है। ऐसे समय में होम डिलीवरी फूड लोगों के लिए काफी मददगार साबित हुई है। पलाश रेसिडेंसी के मैनेजर अजय श्रीवास्तव ने बताया कि बीते वर्ष की तुलना में इस बार लोगों से काफी बेहतर रिस्पांस मिल रहा है। कोविड गाइडलाइन का पालन हो इसके लिए फूड की डिलीवरी होटल स्टाफ से करवा रहे है। अभी लगभग 100 से अधिक ऑर्डर मिल रहे है। सबसे ज्यादा कोलार, सलैया, अरेरा कॉलोनी, जहांगीराबाद वाले क्षेत्रों में फूड डिलीवरी हो रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें