• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Testing Will Be Done At The Airport And Railway Station, If Needed, Small Containment Zones Will Be Created; Shivraj Will Also Hit The Road

कोरोना पर सरकार अलर्ट:सड़क पर उतरेंगे CM, एयरपोर्ट-रेलवे स्टेशन पर होगी टेस्टिंग, छोटे कंटेनमेंट जोन बनेंगे; इंदौर-भोपाल बने हॉटस्पॉट

भोपाल7 महीने पहले

भोपाल-इंदौर समेत मध्यप्रदेश में कोरोना के बढ़ते केस के चलते CM शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को मंत्री और अफसरों की आपात बैठक बुलाई। मुख्यमंत्री ने मास्क लगाने, कोरोना टेस्ट बढ़ाने, जरूरत होने पर छोटे कंटेनमेंट जोन बनाने और सोशल डिस्टेंसिंग की अपील करने को लेकर निर्देश दिए हैं।

अस्पतालों में बेड और दवाई की उपलब्धता रखने को भी कहा है। शिवराज ने कहा कि वे खुद भी सड़क पर उतरेंगे और लोगों को मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने को लेकर जागरूक करेंगे।

प्रदेश में 24 घंटे में 20 केस आए, भोपाल में ही आधे
पिछले 24 घंटे में भोपाल में सबसे ज्यादा 14, इंदौर में 5 और जबलपुर में 1 कोरोना केस मिला है। एक दिन पहले छोटे शहरों में भी केस सामने आए हैं। इसके बाद ही सीएम शिवराज ने मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस के साथ आपात मीटिंग की। भोपाल में कोरोना को कंट्रोल करने के लिए भोपाल कमिश्नर, आईजी, डीआईजी, कलेक्टर और सीएमएचओ को भी मीटिंग में बुलाया था।

प्रदेश में टेस्टिंग बढ़ेगी
CM ने प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग बढ़ाने के भी निर्देश दिए हैं। अभी रोज एवरेज 53 हजार टेस्ट हो रहे हैं। इसे बढ़ाकर 70 हजार करने का टारगेट रखा गया है। गौरतलब है कि इंदौर में सेकेंड वेव के टाइम 9 से 10 हजार टेस्ट रोजाना हो रहे थे, जो घटकर लगभग साढ़े 5 हजार हो गए हैं। ऐसी ही स्थिति भोपाल की भी है।

फिर बनेंगे कंटेनमेंट जोन
प्रदेश में अब फिर से कंटेनमेंट जोन बनेंगे। सीएम ने कहा है कि जरूरत होने पर छोटे कंटेनमेंट जोन बनाए जाएंगे।

भोपाल को लेकर ज्यादा फोकस
पिछले 10 दिनों में भोपाल में कोरोना के सबसे ज्यादा केस मिले हैं। इसके चलते सीएम ने यहां पर ज्यादा फोकस करने को कहा है। उन्होंने कहा कि भोपाल एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन पर कोरोना जांच शुरू करें। काटजू अस्पताल सहित अन्य अस्पतालों काे चयनित करके रखें। अस्पतालों में कोरोना से संबंधित सभी आवश्यक मशीन और उपकरण को एक बार चेक करा लें, ताकि कोई दिक्कत न हो। वहीं, एक कार्ययोजना तैयार कर पूरा प्रशासन अलर्ट पर रहे।

भोपाल में फिर होगी सख्ती:बिना मास्क के मिले तो अब 100 नहीं 500 रुपए जुर्माना, दोनों डोज के बिना कर्मचारी मिले तो संस्थान पर कार्रवाई

MP में फिर कोरोना पर अलर्ट:13 दिन में 169 संक्रमित मिले, भोपाल-इंदौर बने हॉटस्पॉट; रायसेन-दमोह और बड़वानी में भी फैला संक्रमण

खबरें और भी हैं...