• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • The 24 Shops Due To Which The Work Of 4 Pillars Of The Metro Was Stuck, They Are Now Removed After One And A Half Years.

प्रोजेक्ट की तैयारी:मेट्रो के 4 पिलर का काम जिन 24 दुकानों के कारण अटका था, वो डेढ़ साल बाद अब हटीं

भोपाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डेढ़ साल की कवायद के बाद सुभाष नगर क्रॉसिंग के पास मेट्रो के प्रायोरिटी रूट में बाधक 24 से अधिक अवैध फर्नीचर दुकानों को मंगलवार को हटा दिया गया। इन दुकानों के कारण मेट्रो के 4 पिलर का काम रुका हुआ है। हालांकि अभी भी मेट्रो के काम में दो बड़ी बाधाएं बरकरार हैं। सुभाष नगर के पास ही आजाद नगर की शिफ्टिंग भी अभी होना है।

इस जमीन पर मेट्रो के वर्तमान काम के 10 पिलर के साथ दूसरी लाइन के पिलर भी आना हैं। इसी तरह स्टड फार्म पर पाइप लाइन की शिफ्टिंग भी अभी रुकी हुई है। यहां डिपो के काम के साथ रूट के 3 पिलर भी बनना हैं। करीब डेढ़ साल पहले मेट्रो के काम को रफ्तार देने के लिए 15 बाधाएं हटाने की कवायद शुरू हुई थी।

इनमें से 11 के बारे में कहा गया था कि इन्हें तत्काल हटाना जरूरी है। इनमें से सुभाष नगर रेलवे क्रॉसिंग के पास स्थित 24 से अधिक फर्नीचर दुकानों को हटाने के लिए प्रशासन डेढ़ साल से कवायद कर रहा था। पिछले 3 दिन से मेट्रो रेल कंपनी और प्रशासन यहां अनाउंसमेंट कर रहे थे।

जिला प्रशासन, नगर निगम और पुलिस बल के साथ मेट्रो रेल कंपनी के अफसर मंगलवार सुबह 10:30 बजे सुभाष नगर रेलवे क्रॉसिंग पर पहुंचे और इन दुकानदारों को हटने के लिए कहा। एसडीएम जमील खान, तहसीलदार व अन्य प्रशासनिक अमले के पहुंचने की जानकारी मिलने पर पूर्व नेता प्रतिपक्ष मो. सगीर मौके पर पहुंचे। वे कार्रवाई रोकने के लिए अफसरों से बात कर रहे थे, लेकिन अफसरों ने उन्हें समझा दिया कि मेट्रो का काम है। अब इस कार्रवाई को नहीं रोका जा सकता। इसके बाद यहां के दुकानदार खुद ही अपना सामान भर कर ले गए।

भोपाल मेट्रो के काम में अड़चनों की अपडेट

  • आजाद नगर झुग्गीबस्ती की शिफ्टिंग होना है- इस पर अंतिम निर्णय नहीं हुआ है।
  • स्टड फार्म की जमीन से पाइप लाइन की शिफ्टिंग- नगर निगम के स्तर पर टेंडर और वर्कऑर्डर की प्रक्रिया चल रही है।
  • ग्लू फैक्ट्री की जमीन - विवाद सुलझाया जाना है, कार्य करने की अनुमति मिल गई है।
  • हबीबगंज रेलवे क्रॉसिंग - यहां स्टील के आरओबी की डिजाइन का टेक्निकल अप्रूवल मिल गया है। प्रशासनिक प्रक्रिया चल रही है।
  • ग्रीन पेट्रोल पंप और 15 दुकानों की शिफ्टिंग- हो गई।
  • एम्स के पास स्टेशन और पार्किंग के लिए जमीन का अधिग्रहण - एम्स प्रबंधन ने काम करने की अनुमति दे दी है। एम्स हेड क्वार्टर से औपचारिक अधिग्रहण की कागजी कार्रवाई होना है।
  • डीआरएम ऑफिस के सामने स्टेशन के लिए जमीन का अधिग्रहण - हो गया।
  • बीयू की चार एकड़ जमीन लेना है- कोई अड़चन नहीं है। एसडीएम कार्यालय से औपचारिक कार्रवाई बाकी है।
  • आरबीआई के सामने सरकारी जमीन का - आपसी सहमति हो गई है। अधिग्रहण की कार्रवाई एसडीएम कार्यालय में चल रही है।
  • सीआई कॉलोनी के 137 मकान - महालक्ष्मी परिसर में शिफ्टिंग शुरू हो गई है।
  • बाल संप्रेषण ग्रह की शिफ्टिंग - इस महीने के अंत तक ट्राइबल होस्टल में शिफ्ट हो जाएगा।
  • पारसी समुदाय के कब्रिस्तान की जमीन की अदला-बदली होना है - सहमति हो गई है। फिलहाल प्रायोरिटी नहीं।
  • आरा मशीन पातरा नाला के पास रेलवे की 0.53 एकड़ जमीन - फिलहाल मेट्रो प्रोजेक्ट की प्रायोरिटी में नहीं है।
  • आरा मशीन पातरा नाला के पास शाही औकाफ की 0.54 एकड़ जमीन - फिलहाल मेट्रो प्रोजेक्ट की प्रायोरिटी में नहीं है
  • आरा मशीन पातरा नाला के पास 0.008 एकड़ के पास सरकारी ओपन जमीन है - फिलहाल मेट्रो प्रोजेक्ट की प्रायोरिटी में नहीं है
  • गोविंदपुरा से डिपो तक 132 केवीए की अंडरग्राउंड बिजली लाइन - अनुमति मिल गई है। बिजली कंपनी काम करेगी।
खबरें और भी हैं...