• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • The Farmer Who Came As An Angel Saved The Innocent, The Woman Died, After An Altercation With The Husband Took The Suicide Step

सात माह की बच्ची के साथ कुएं में कूदी मां:फरिश्ता बनकर आए किसान ने मासूम को बचाया, महिला की मौत, पति से कहासुनी के बाद उठाया आत्मघाती कदम

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
साक्षी मीणा की बेटी लाली। - Dainik Bhaskar
साक्षी मीणा की बेटी लाली।

भोपाल के परवलिया सड़क थाना इलाके के गांव शाहपुर में महिला अपनी सात महीने की मासूम बच्ची के साथ कुएं में छलांग लगा दी। शोर सुनकर फरिश्ता बनकर पहुंचे गांव के ही किसान ने कुएं से मासूम को सकुशल बाहर निकाल लिया। जबकि बच्ची की मां की पानी में डूबने से मौत हो गई। बताया गया कि महिला का पति उसे घर लाने के लिए ससुराल पहुंचा था। वह ससुराल नहीं आना चाह रही थी। इसी बात को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई। सप्ताहभर पहले ही महिला मायके आई थी।

इस कुएं में कूदी महिला।
इस कुएं में कूदी महिला।

परवलिया पुलिस के मुताबिक, गांव शाहपुर, परवलिया सड़क में रहने वाली रक्षा मीणा पति सोनू मीणा (22) गृहणी थी। उसकी शादी दिसंबर 2019 में सोनू मीणा निवासी नीलबड़, रातीबड़ से हुई थी। सोनू किसानी के साथ प्राइवेट काम करता है। इस समय वह किसी का निजी वाहन चला रहा है। सोनू मीणा ने पुलिस को बताया कि सप्ताहभर पहले उसने पत्नी रक्षा मीणा और सात महीने की मासूम बेटी लाली को शाहपुर उसके मायके में छोड़ा था। सोमवार सुबह वह शाहपुर पत्नी को लेने पहुंचा। पत्नी रक्षा से उसने चलने का कहा और वह तैयार हो गई। थोड़ी देर बाद रक्षा का मन बदल गया। वह ससुराल जाने से मना करने लगी।

इसी बात को लेकर पति-पत्नी के बीच कहासुनी हो गई। इसके बाद रक्षा सात महीने की अपनी बेटी लाली को लेकर घर से निकल गई। घर से थोड़ी दूरी पर खेत में बने कुएं में उसने बच्ची के साथ कुएं में छलांग लगा दी। वहां खेत में काम कर रही युवतियों ने शोर मचाया तो उनके पिता रघुवीर मीणा मौके पर पहुंचे। रघुवीर ने कुएं में झांककर देखा तो रक्षा नजर नहीं आई, लेकिन कुएं में लाली के पैर नजर आए। लाली का चेहरा पानी में डूबा था। उन्होंने बिना समय गवाएं कुएं में छलांग लगा लाली को बाहर निकाल लिया। उसे अस्पताल पहुंचाया गया। अब उसकी स्थित खतरे से बाहर है।

लाली की बचा ली जान
घटना की जानकारी परिजन को लगी और वह भी मौके पर पहुंचे। इसके बाद लाली को अस्पताल पहुंचाया गया। डॉक्टर ने लाली की स्थिति खतरे से बाहर बताई है। इधर, सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी। बाद में गोताखोरों की मदद से रक्षा मीणा कुएं से बाहर निकाला गया। तब तक काफी देर हो चुकी थी।

खबरें और भी हैं...