• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • The Father Of The Child Had Passed Away A Few Months Ago: I Will Give 150 Rupees To The Child: Only The Mother's Tooth Rate On Biting The Finger

भोपाल में गन्ना मशीन से बच्चे की उंगलियां कटीं:तीन महीने पहले पिता चल बसे, बाल मजदूरी करने लगा; दर्द से ज्यादा डर इस बात का कि मां डांटेगी

हिना ओझा, भोपाल8 महीने पहले
मां ने बताया कि अक्सर मना करती थी की दुकान पर मत जाया कर, फिर भी जिद करता था कि घर में क्या करूंगा, जाने दो।

कोलार रोड के पास दुर्गा नगर में एक बच्चे का गन्ने की मशीन में हाथ आने से उंगलियां कट गई। 13 साल का बच्चा गन्ने का रस बेचने वाली दुकान पर बाल मजदूरी कर रहा था। बच्चे की दो उंगलियां कटकर अलग हो चुकी हैं, एक उंगली बुरी तरह कुचल गई। वह एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती है। उंगली अगर नीली नहीं पड़ती है तो तीन दिन बाद ऑपरेशन होगा।

कोलार रोड के दुर्गा नगर चौराहे पर शुभम जायसवाल की गन्ने के रस की दुकान है। इसी साल मार्च में बच्चे ने काम पर जाना शुरू किया था। शनिवार रात जब उसने मशीन चलाई, तो दुकान मालिक का ध्यान कहीं ओर था। बच्चे ने जैसे ही गन्ना मशीन में घुमाई, उसका बायां हाथ भी गन्ने के साथ अंदर चला गया।

परिवार ने बताया कि बच्चे के हाथ में ड्रेसिंग कर दी गई है। उसे ये नहीं पता कि चोट कितनी गंभीर है। अस्पताल लाते समय उसके हाथ को कपड़े से दबाकर रखा था, ताकि अपना हाथ देखकर उसे सदमा न लग जाए। बच्चे को अपने दर्द से ज्यादा इस बात का डर है कि ठीक होकर वह घर लौटेगा तो मां उसे डांटेगी, क्योंकि मां ने उसे काम करने से मना किया था। मां से बातचीत के दौरान मालूम हुआ कि बच्चा 8th क्लास में पढ़ता है। 3 महीने पहले हार्ट अटैक से पिता की डेथ होने के बाद मां घरों में काम करती है। 15 साल का बड़ा भाई रिश्तेदारी में महाराष्ट्र गया हुआ है।

मां ने काम करने से रोका तो बोला- घर पर क्या करूंगा
गन्ने की दुकान का मालिक शुभम बच्चे का पड़ोसी है। शुभम 12वीं तक पढ़ा है। बच्चा उसके साथ दुकान जाने लगा तो उसने भी उसे 150 रुपए हर दिन के हिसाब से काम पर रख लिया। मां ने बताया कि अक्सर मना करती थी की दुकान पर मत जाया कर, फिर भी जिद करता था कि घर में क्या करूंगा, जाने दो।

खबरें और भी हैं...