पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सर्दी में आने वाला वेस्टर्न डिस्टरबेंस गर्मी में:सीजन में एक बार भी 43 डिग्री पर नहीं पहुंच सका दिन का पारा

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शुक्रवार को मई का एक हफ्ता बीत गया। इसके बावजूद अब तक तपिश ज्यादा नहीं हुई। सीजन में अब तक एक बार भी पारा 43 डिग्री पर नहीं पहुंचा। 29 अप्रैल को सबसे ज्यादा तापमान 42.8 डिग्री दर्ज किया गया था। इसकी वजह बताते हुए मौसम विशेषज्ञ कहते हैं कि सर्दियों में आने वाले वेस्टर्न डिस्टरबेंस का सिलसिला अभी भी बरकरार है।

इस वजह से गुजरात और राजस्थान से लगातार गर्म हवा भी नहीं आ पा रही। इस वजह से तापमान नहीं बढ़ पा रहा है। इसके कारण बादल, तेज हवा और बूंदाबांदी जैसा मौसम बना हुआ है। शुक्रवार को दिन का तापमान 40.9 डिग्री रहा। गुरुवार के मुकाबले इसमें 0.9 डिग्री की गिरावट हुई। दोपहर 2:30 बजे तक पारे की चाल तेज थी। बादल छाने और तेज हवा चलने से पारा 41 डिग्री तक भी नहीं पहुंच सका।

रात सबसे ज्यादा तपी, पारा 28 डिग्री के करीब पहुंचा
रात का तापमान 27.4 डिग्री दर्ज किया गया । 24 घंटे में इसमें 4 डिग्री का इजाफा हुआ। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि यह इस सीजन में रात का सबसे ज्यादा तापमान है। इसकी वजह यह है कि बादल छाने से अर्थ रेडिएशन ठीक से नहीं हो सका।

खबरें और भी हैं...