पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिंधिया के अलावा एक और मंत्री की कवायद:मध्यप्रदेश से राकेश सिंह और वीरेंद्र खटीक के नाम भी चर्चा में

भोपाल17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मोदी कैबिनेट में सिंधिया के साथ मप्र को एक और केंद्रीय मंत्री मिल सकता है। दिल्ली में इसको लेकर कवायद शुरू हुई है। प्रबल दावेदारों में जबलपुर से सांसद व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह और टीकमगढ़ से सांसद वीरेंद्र खटीक का नाम आगे है। खटीक छह बार के सांसद हैं और पूर्व में केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं।

राकेश सिंह लोकसभा में मुख्य सचेतक हैं और चार बार के सांसद हैं। दिल्ली में खटीक को लेकर चर्चा है कि थावरचंद गेहलोत चूंकि अनुसूचित जाति वर्ग से हैं। लिहाजा उनकी जगह इसी वर्ग से खटीक को मौका दिया जा सकता है। इसके अलावा खटीक टीकमगढ़ से सांसद हैं, जिसकी सीमा उत्तर प्रदेश से सटी है।

आने वाले दिनों में उप्र में चुनाव हैं। राकेश सिंह का मजबूत पक्ष यह है कि वे अभी 59 वर्ष के हैं। मोदी कैबिनेट में जिस तरह से कम उम्र नेताओं को मौका दिया जा रहा है, उस क्राइटेरिये में राकेश सिंह को मौका मिल सकता है। हालांकि महाकौशल क्षेत्र से दो केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल (दमोह) और फग्गन सिंह कुलस्ते (मंडला) वर्तमान में मोदी कैबिनेट में हैं। अटकलें हैं कि इन दोनों में से किसी को हटाकर राकेश सिंह को मौका दिया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...