• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Bhopal The Tears Of The Mother Of The Deceased Could Not Stop; Bid The Daughter in law Got The Son Killed, The Police Left Her

हाईवे पर हुई हत्या में पुलिस पर सवाल:युवक की मां बोली- बहू ने ही बेटे को मरवाया, उसे ही छोड़ा; ASP ने कहा- ठोस सबूत नहीं

भोपाल7 महीने पहले

भोपाल के सूखी सेवनिया में 4 दिन पहले भोपाल-इंदौर हाईवे पर हुई युवक की हत्या के मामले में पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। मृतक की मां ने बताया कि बहू ने ही बेटे की हत्या करवाई। वारदात के दिन वही बेटे को लेकर गई थी। उसके सामने ही बहू के भाई और उसके साथी ने बेटे को चाकू मारने के बाद गोली मारी। हालांकि पुलिस ने पहले उसे भी आरोपी बताया था, लेकिन बाद में छोड़ दिया। इधर, एएसपी राजेश भदौरिया का कहना है कि महिला मौके पर थी, लेकिन अब तक की जांच में न तो उसके साजिश और न ही हत्या में शामिल होने की पुष्टि हुई है।

गौतम नगर नारियलखेड़ा में रहने वाली पप्पू बी ने बताया कि उनके बेटे इमरान (34) की शादी 10 साल पहले नेहा खान से हुई थी। उसके दो बच्चे भी हैं। 18 नवंबर की शाम करीब 4 बजे इमरान और उसकी पत्नी साथ में थे। वे भोपाल-इंदौर हाइवे सूखीसेवनिया में किराए से मकान देखने गए थे। इसी दौरान नेहा के भाई समीर खान और उसका साथी नितेश वहां पहुंचे।

उन्होंने मिलकर इमरान पर पहले तलवार से वार किए, उसके बाद गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के दौरान इमरान की नेहा भी वहीं थी। वारदात के बाद वह भाई के साथ भाग गई। घटना की सूचना उन्हें नेहा के मायके से ही फोन पर मिली। हम मौके पर पहुंचे, तो इमरान की मौत हो चुकी थी।

पुलिस ने कहा था कि मामले में इमरान की पत्नी को भी आरोपी बनाएंगे। रात को जब हम थाने पहुंचे, तो आरोपियों को सोफे पर बैठाया था। हमें अंदर तक नहीं जाने दे रहे थे। बाद में उसे छोड़ दिया गया। उसे सजा मिलना चाहिए। वह दोषी है। मेरा बेटा उसे बहुत चाहता था, लेकिन उसने ही मरवा दिया।

इसलिए उसने हत्या की

पप्पू बी का कहना है कि नेहा खान अपनी मां पर हुए हमले का बदला लेना चाह रही थी। पिछले साल इमरान नेहा से मिलने के लिए उसके घर गया। इसी दौरान नेहा की मां ने इमरान पर चाकू से हमला कर दिया था। इमरान ने वही चाकू छुड़ाकर उसे मारा था। नेहा की मां की शिकायत पर इमरान पर FIR हुई थी। कुछ दिन पहले ही इमरान छूट कर आया था। नेहा 3 दिन से इमरान को किराए का मकान लेने के बहाने घुमा रही थी। उसने साजिश के तहत बेटे को मरवाया है।

पुलिस का तर्क- फिलहाल ठोस कारण नहीं मिला

एएसपी राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि घटना के दौरान नेहा मौके पर थी, लेकिन उसे उसके भाईयों के मंसूबों के बारे में पता नहीं था। घटना के बाद वह घर पहुंची। उसके कहने पर परिजनों और पड़ोसियों ने पुलिस को फोन पर घटना की सूचना दी। अब तक की जांच में नेहा की भूमिका सामने नहीं आई है।

महिला ने पति की हत्या करवाई:मां पर किए हमले का बदला लेने रची साजिश, भाई और दोस्त ने तलवार से किया हमला, फिर मारी गोली