पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • The Victim's Husband Said Police Told Me, Wrong With Wife, Name Will Be Bad In The Society If Everyone Knows

BMHRC में दुष्कर्म का मामला:पीड़िता के पति ने कहा- पुलिस मुझे बोली, पत्नी के साथ गलत हुआ, सबको पता चलेगा तो समाज में नाम खराब होगा

भोपालएक महीने पहलेलेखक: अजय वर्मा
  • कॉपी लिंक
पत्नी के साथ दुष्कर्म हुआ था ये दो दिन पहले पुलिस ने बताया। - Dainik Bhaskar
पत्नी के साथ दुष्कर्म हुआ था ये दो दिन पहले पुलिस ने बताया।

भोपाल मेमोरियल अस्पताल में कोरोना संक्रमित के साथ दुष्कर्म मामले में पुलिस की लापरवाही से जुड़ीं चौंकाने वाली जानकारियां सामने आई हैं। भास्कर पीड़िता के पति तक पहुंचा तो मालूम हुआ कि उन्हें पुलिस ने अखबार में खबर छपने के बाद दो दिन पहले ही दुष्कर्म होने की जानकारी दी है। यही नहीं, पुलिस ने पीड़िता के पति से यह भी कहा कि तुम्हारी पत्नी के साथ अस्पताल में कुछ गलत हुआ था, यदि ये सबको पता चलेगा तो आपका समाज में नाम खराब होगा, बच्चों पर बुरा असर पड़ेगा।

पीड़िता के पति के मुताबिक 5 अप्रैल तक उसकी तबीयत ठीक थी, 6 अप्रैल को अचानक से खराब होने की सूचना अस्पताल ने दी। हमें समझ में नहीं आ रहा था कि वहां पर क्या हो रहा है। उसकी सांसें तेज क्यों चल रही थीं, वो कुछ बताना चाहती थी शायद। जो नहीं बता पाई।
पुलिस ने क्यों कहा पता गलत है?
परिवार के मुताबिक अस्पताल में जो पता पीड़िता के रिकॉर्ड में लिखा था वो उसके मायके का है। महिला गैस पीड़ित थी, इसलिए उसके इलाज का स्मार्ट कार्ड इसी पते पर दर्ज है। जिसे पुलिस गलत पता होना बता रही थी।पीड़िता के पति का आरोप है कि जिन पुलिसकर्मियों और अस्पताल प्रबंधन ने इस घटना को छिपाया है उन दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए।

पुलिस घर आई थी, कोरे कागजों पर साइन लिए, बोली- मदद करेंगे

पीड़िता के पति के मुताबिक दो दिन पहले सुबह 10:30 बजे के आसपास पुलिसवाले घर आए और उन्हें गाड़ी में बैठाकर किसी अधिकारी के पास ले गए थे। वो बोले कि मुझे गाड़ी में बैठाया। पूछने पर ये भी नहीं बताया कि कहां ले जा रहे हैं। बस ये बोले कि साहब ने बुलाया है। मैं उन साहब का नाम नहीं जानता जहां पर मुझे ले गए थे। हां लेकिन ये बता सकता हूं कि तीन-चार कोरे कागज पर मेरे साइन लिए।

मैं पढ़ा-लिखा नहीं हूं। लेकिन साइन कर लेता हूं। मेरा वीडियो भी बनाया था। लेकिन मैंने जब बोला कि वीडियो क्यों बना रहे हो तो पुलिस अधिकारी ने कहा कि ये वीडियो डिलीट कर देंगे। मुझे बताया पत्नी के साथ अस्पताल में कुछ गलत यानी (दुष्कर्म) हुआ था। यदि इस घटना के बारे में सबको पता चलेगा तो आपका समाज में नाम खराब होगा। बच्चों पर बुरा असर पड़ेगा। पुलिस के अफसरों ने ये भी कहा कि वो मेरी हर मदद करेंगे है।

जांच सही दिशा में चल रही है
महिला के पति के बयान लिए हैं। उसके बयान के बारे में सीनियर अफसरों को बता दिया है। जांच सही दिशा में चल रही है। इससे ज्यादा मैं कुछ नहीं कह सकता है।
-महेन्द्र सिंह चौहान, थाना प्रभारी, निशातपुरा

खबरें और भी हैं...