पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • The Wife Reached The Court Against The Husband Who Married Without Divorce, So The Husband Did Not Have To Provide Maintenance, So The Husband Told Himself To Be Psychiatric

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फैमिली कोर्ट:बिना तलाक शादी करने वाले पति के खिलाफ पत्नी पहुंची कोर्ट भरण-पोषण न देना पड़े इसलिए पति ने खुद को बताया मनोरोगी

भोपाल14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पति बोला- पत्नी के चलते वह बीमार हुआ, डिप्रेशन में है, नौकरी भी छूटी, भरण पोषण नहीं दे सकता
  • काउंसलर ने अपनी रिपोर्ट में लिखा- पति के दस्तावेजों की जांच जरूर कराए कोर्ट

बिना तलाक लिए दूसरी शादी करने के मामले में पहली पत्नी ने पति के खिलाफ भरण-पोषण का प्रकरण लगाया। इस पर कोर्ट ने मामले में काउंसलिंग कराई। काउंसलिंग के दौरान पति ने खुद को मनोरोगी बताते हुए काउंसलर के सामने दस्तावेज प्रस्तुत किए। उसका कहना था कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। उसका खर्च माता-पिता उठाते हैं। इसलिए वह पत्नी काे भरण-पोषण की राशि देने में असमर्थ है। ़

काउंसलर ने दस्तावेज देखने के के बाद उससे उसके अतीत और भविष्य के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने पति के साथ आए लोगों से भी बातचीत की। जिससे काउंसलर को पता लगा कि पत्नी को भरण-पोषण की राशि न देना पड़े इसलिए उसने दस्तावेज तैयार कराए हैं। इस पर उन्होंने अपनी रिपोर्ट में लिखा कि पति द्वारा प्रस्तुत दस्तावेज संदिग्ध हैं। इसलिए कोर्ट संबंधित दस्तावेजों की जांच जरूर कराएं। काउंसलिंग काउंसलर शैल अवस्थी ने की। मामला कुटुंब न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश आरएन चंद के यहां विचाराधीन है।

पति ने किया दूसरी शादी करने से इनकार, पत्नी ने कहा- झूठ बोल रहे हैं

महिला ने भरण-पोषण के लिए कोर्ट में अर्जी लगाई थी। उसकी शादी को 10 साल हो गए हैं। उसकी शादी जनवरी 2011 को हुई थी। उसका एक बेटा है। पति से विवाद के चलते महिला शादी के पांच साल बाद ससुराल छोड़कर बच्चे के साथ मायके आ गई। उसके बाद पति और ससुराल वालों ने कोई सुध नहीं ली। महिला ने काउंसलर को बताया कि उसे पता चला कि लॉकडाउन में पति ने दूसरी शादी कर ली है। उसके मायके वालों ने रिश्तेदारों से पता किया। इस पर जानकारी सही निकली। महिला के परिजनों ने इसका विरोध किया तो पति और ससुराल वालों ने धमकाया कि कोई उनका कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

इसके बाद महिला और उसके परिजनों ने इसकी शिकायत महिला थाने में की। वहीं कोर्ट में भरण-पोषण दिए जाने के संबंध में अर्जी लगाई। काउंसलिंग के दौरान पति ने दूसरी शादी से इंकार कर दिया। उसका कहना था कि उसके ऊपर झूठे आरोप लगाए गए हैं। पति का कहना था कि वह पत्नी की वजह से मनोरोगी बन गया है। उसका इलाज दो मनोचिकित्सकों के यहां चल रहा है। वह डिप्रेशन में रहता है। नौकरी छूट गई है। इसलिए वह भरण-पोषण करने में असमर्थ है। काउंसलर ने बताया कि उन्होंने जब महिला के पति और उसके साथ रिश्तेदारों से अलग अलग बातचीत की तो समझ में आया कि महिला का पति बिलकुल ठीक है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें