• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Traffic Trial Soon, 'Green' Light Will Remain On Signal For 20 To 30 Seconds, 3 Lakh People Will Benefit

भोपाल का सुभाष नगर आरओबी तैयार, VIDEO:ट्रैफिक का ट्रायल जल्द, सिग्नल पर 20 से 30 सेकेंड रहेगी 'ग्रीन' लाइट, 3 लाख लोगों को फायदा

भोपाल2 महीने पहले

भोपाल में 40 करोड़ रुपए से बने सुभाष नगर आरओबी (रेलवे ओवरब्रिज) को ट्रैफिक के ट्रायल के बाद आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। हालांकि, 22 नवंबर तक ट्रैफिक पुलिस और PWD अफसरों ने ट्रायल की डेट तय नहीं की है। वजह, PM के दौरे समेत लगातार छुट्‌टियां होना बताई जा रही है, क्योंकि जब ट्रैफिक का दबाव सुभाष नगर रोड पर रहेगा, तभी रेड और ग्रीन लाइट के बारे में आकलन हो सकेगा। सिग्नल पर 20 से 30 सेकेंड 'ग्रीन' लाइट रहेगी। ब्रिज शुरू होने से 3 लाख लोगों को फायदा मिलेगा।

जाम से मिलेगी राहत, यहां आने-जाने वालों को सहूलियत मिलेगी

ROB से ट्रैफिक शुरू होने के बाद रोज एवरेज 3 लाख लोगों को फायदा होगा। वहीं, सुभाष नगर व रचना नगर अंडर ब्रिज के साथ अशोका गार्डन पर घंटों लगने वाले जाम की समस्या भी हल होगी। आरओबी से एमपी नगर और प्रभात चौराहा क्षेत्र से भोपाल स्टेशन, अशोका गार्डन व पिपलानी, गोविंदपुरा, एमपी नगर, रचना नगर की ओर आने-जाने वालों को सहूलियत होगी।

इसलिए लगे सिग्नल

एमपी नगर से जिंसी चौराहे की ओर जाने वाले वाहन बिना किसी अड़चन से गुजर सकेंगे, लेकिन यदि ये वाहन आरओबी से होकर सुभाष नगर चौराहे की ओर जाते हैं तो सिग्नल की जरूरत पड़ेगी, क्योंकि जिंसी चौराहे का ट्रैफिक एक तरफ से आएगा। ऐसे में एक्सीडेंट होने का खतरा रहेगा। इसलिए ब्रिज से पहले सिग्नल लगाकर ट्रैफिक को रोका जाएगा। ट्रैफिक के ट्रायल के बाद ग्रीन लाइट की टाइमिंग सेट की जाएगी। पीडब्ल्यूडी चीफ इंजीनियर (ब्रिज) संजय खांडे ने बताया, ट्रैफिक के ट्रायल के बाद ब्रिज शुरू कर दिया जाएगा।

20 महीने पहले बन चुका

आरओबी करीब 20 महीने पहले ही बनकर तैयार हो चुका है, लेकिन मेट्रो प्रोजेक्ट और सर्विस रोड की वजह से अब तक ट्रैफिक शुरू नहीं हो पाया है। अब ट्रैफिक गुजारने की फाइनल स्टेज है। यह 40 करोड़ रुपए में बना है। इसकी लंबाई 690 मीटर है, जो नए को पुराने शहर को जोड़ेगा।

खबरें और भी हैं...