हिजाब पहन 'खान सिस्टर्स' ने दौड़ाई बाइक:​​​​​​​ बोलीं- हम कंफर्टेबल हैं, फिर लोगों को क्यों दिक्कत...गृहमंत्री बोले कार्रवाई पर कर रहे विचार

भोपाल8 महीने पहले

कर्नाटक में हिजाब पर हंगामे के बाद अब मध्यप्रदेश में इस पर राजनीति शुरू हो गई है। भोपाल में मुस्लिम युवतियों ने हिजाब पहनकर बाइक दौड़ाई, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसके बाद से राज्य में हिजाब और बुर्के पर पॉलिटिक्स तेज हो गई है। लड़कियों ने यह वीडियो इंस्टाग्राम पर 'खान सिस्टर्स' के नाम से शेयर किया है।

वायरल वीडियो में हिजाब पहने चार युवतियां वीआईपी रोड पर स्पोर्ट्स बाइक और बुलेट दौड़ा रही हैं। पीछे बैठी एक युवती ने फ्लाइंग किस भी दिया। दूसरी युवती विक्ट्री साइन दिखा रही है। वीडियो सामने आने के बाद विवाद बढ़ गया है। बुलेट पर आगे नंबर प्लेट की जगह भाजपा के झंडे का रंग दिखाई दे रहा है। वीडियो 5 दिन पुराना है, लेकिन अब इसे लेकर कांग्रेस ने तंज कसा है। वहीं, भाजपा नेता ने कार्रवाई की मांग की है।

हिजाब और नकाब में हम कंफर्टेबल हैं...फिर लोगों को दिक्कत क्यों?
इससे पहले, प्रियदर्शिनी कॉलेज के इस वीडियो में मुस्लिम लड़कियों ने हिजाब और बुर्का पहनकर फुटबॉल और क्रिकेट खेला। उनका खेल देखने बड़ी संख्या में लोग पहुंचे, जो उन्हें प्रोत्साहित करते रहे। लड़कियों ने कहा कि हिजाब और नकाब में हम कंफर्टेबल हैं। हिजाब हमारा राइट है, आइडेंटिटी है। फिर लोगों को इससे दिक्कत क्यों हो रही है? मैच में कमेंट्री के दौरान कर्नाटक में हिजाब पर चल रहे विवाद की भी जानकारी दी गई।

हिजाब के समर्थन में आए आईएएस
इस बीच, मप्र के आईएएस अधिकारी नियाज खान भी हिजाब के समर्थन में आ गए हैं। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी नियाज खान ने बुधवार को ट्वीट किया कि हिजाब या नकाब पर इतनी कंट्रोवर्सी क्यों? उन्होंने हिजाब को कोरोना के मास्क और पीपीई किट से जोड़ा। उन्होंने कहा कि कोरोना हमें इसका महत्व समझा चुका है कि हिजाब या नकाब हमारे जीवन की सुरक्षा करता है। साथ ही ये हमें प्रदूषण से भी सुरक्षित रखता है, इसलिए हिजाब को प्रोत्साहित करें।

गृहमंत्री बोले- कार्रवाई करने पर विचार करेंगे
हिजाब वाली बाइकर्स के इस VIDEO पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि यह बहुत गंभीर विषय है। कार्रवाई पर विचार किया जाएगा। वहीं, 'खान सिस्टर्स' और कांग्रेस के ट्वीट पर कहा गया कि कांग्रेस स्वाभाविक रूप से इस तरह के विषयों को जिंदा रखना चाहती है। संवेदनशील विषयों पर राजनीति नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जब कभी संवेदनशील विषय आते हैं, तो सोशल मीडिया पर इस तरह के वीडियो वायरल होने लगते हैं। यह प्रमाणित नहीं होता है कि वीडियो आज का है, कल का है कि परसों का है। जब संवेदनशील विषय कोई आए तो सोशल मीडिया पर मर्यादा का पालन करना चाहिए।

बाइक के नंबर प्लेट पर भाजपा के झंडे का रंग, कांग्रेस ने बोला हमला
सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में बुलेट की नंबर प्लेट पर भाजपा के झंडे का कलर है। इस पर कांग्रेस हमलावर हो गई। भाजपा नेता उमेश शर्मा के ट्वीट के जवाब में कांग्रेस नेता नरेन्द्र सलूजा ने लिखा- इस वीडियो में मोटर साइिकल चला रहीं बच्चियों के वाहन की नंबर प्लेट भाजपा के रंग में रंगी है, क्या यह भाजपा प्रायोजित है? अपने राजनीतिक फायदे के लिए भाजपा कुछ भी कर सकती है। भाजपा जवाब दे ये बच्चियां कौन हैं?

भाजपा नेता बोले- हिजाब पहनकर जान जोखिम में न डालें, हेलमेट पहनें
भाजपा प्रवक्ता दुर्गेश केसवानी ने लिखा कृपया कर जिम्मेदार संज्ञान में लें। मोटर व्हीकल एक्ट में कहीं भी यह नहीं है कि मोटर साइिकल पर हेलमेट न पहनकर हिजाब पहनकर सड़कों पर तेज रफ्तार गाड़ी चलाएं। जान जोखिम में डालकर विरोध प्रदर्शन करें। सख्त कार्रवाई अपेक्षित है।

मप्र: हिजाब पर हंगामा ऐसे हुआ शुरू
बता दें कि कर्नाटक विवाद के बाद से ही मध्यप्रदेश में हिजाब को लेकर बयानबाजी चल रही है। मप्र में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के स्कूलों में हिजाब बैन करने वाले बयान के बाद विवाद बढ़ गया था। हालांकि, बुधवार को मंत्री परमार वीडियो जारी कर अपने बयान से पलट गए। ऐसा लग रहा था कि अब हिजाब को लेकर चल रही बयानबाजी थम जाएगी, लेकिन भोपाल के कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के इंदिरा प्रियदर्शिनी कॉलेज का नया वीडियो सामने आ गया है।

खबरें और भी हैं...