• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Whether Asked For Bribe Or Not, Whether Or Not To Ask For A Chair And Water To Sit, Such Questions Decided The Ranking Of The Police Stations; Katara Hills Best, Ashoka Garden

जनता ही जज:रिश्वत मांगी या नहीं, बैठने काे कुर्सी और पानी पूछा या नहीं, ऐसे सवालों ने तय की थानों की रैंकिंग; कटारा हिल्स बेस्ट, अशोका गार्डन

भोपाल8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मिसरोद थाने में लोगों की प्रतिक्रिया लेतीं एसआई । - Dainik Bhaskar
मिसरोद थाने में लोगों की प्रतिक्रिया लेतीं एसआई ।

पुलिस कमिश्नर सिस्टम में थाना स्टाफ की जवाबदेही बढ़ाने के मकसद से थानों में शुरू हुई विजिटर रजिस्टर व्यवस्था के रिजल्ट आ गए हैं। बीते 30 दिनों में थाने पहुंचे हजारों विजिटर्स से लिए गए फीडबैक के आधार पर थाना कटारा हिल्स को विजिटर्स से अच्छे व्यवहार के लिए पहला स्थान मिला है, जबकि अशोका गार्डन थाने को आखिरी स्थान मिला है।

जोन-2 क्षेत्र के मिसरोद और अवधपुरी थाने दूसरे और तीसरे पायदान पर रहे। जोन वार तय हुई रैंकिंग में जोन-4 दूसरे नंबर पर, जबकि जोन-3 और 1 चौथे नंबर पर रहे हैं। टॉप थ्री थाना प्रभारियों को पुलिस कमिश्नर इनाम देंगे। इससे नीचे रहने वाले थाना प्रभारियों को फिलहाल विजिटर्स से अच्छे व्यवहार के लिए निर्देश दिए गए हैं। सुधार न आने पर स्पष्टीकरण मांगेंगे। इसके बाद कार्रवाई भी की जा सकती है।

सीपी ऑफिस से पूछे जाते हैं ये 5 सवाल

  • आपकी समस्या को सुना गया या नहीं?
  • आपके साथ पुलिस का व्यवहार कैसा था?
  • आपसे किसी प्रकार की रिश्वत तो नहीं मांगी गई?
  • आपको बैठने के लिए कुर्सी दी गई या नहीं, आपको पानी पूछा गया?
  • आपकी शिकायत पर थाने से कोई एफआईआर/अदमचेक या पावती दी गई या नहीं?

टॉप-5 थाने

  • कटारा हिल्स, मिसरोद, अवधपुरी, अरेरा हिल्स, बागसेवनिया

टॉप-5 पिछड़े

अशोका गार्डन, जहांगीराबाद, गांधी नगर, रातीबड़, कोलार।

लोगों से जवाब पर फीडबैक

थाने में पहुंचने वाले लोगों की जानकारी रोज कमिश्नर ऑफिस भेजी जाती है, फिर यहां से लोगों से 5 अलग-अलग सवालों के जवाब लेकर फीडबैक लेते हैं। भोपाल सीपी मकरंद देऊस्कर ने बताया कि आने वाले दिनों में हर 15 दिन में इसे तैयार कर थानों की रैंकिंग तय की जाएगी।

ऐसे तय की गई रैंकिंग

कमिश्नर सिस्टम के तहत आने वाले 34 थानों में से हर एक के लिए 5 अंक तय थे। विजिटर्स से इन 5 सवालों के जवाब केवल हां या ना में लिए गए हैं। थाने के कुल अंक में से थाने पहुंचने वालों की संख्या को भाग देने पर ये रैंकिंग निकाली गई है।