• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Bhopal While Dying, The Girl Told The Doctor Before Marriage, Had A Physical Relationship With The Fiancé At The First Time; The Blood Has Not Stopped Since Then, The Police Is Taking Legal Advice

भोपाल में युवती की मौत, मंगेतर हिरासत में:मंगेतर से फिजिकल रिलेशन बनाए थे, होने लगी ब्लीडिंग; डॉक्टर को दिखाया पर नहीं बची जान, पुलिस ने संदिग्ध हालात में मौत की जांच शुरू की

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भोपाल में एक युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस उसके मंगेतर से पूछताछ कर रही है। दरअसल, उसकी सगाई हो चुकी थी और उसने अपने मंगेतर के साथ पहली बार फिजिकल रिलेशन बनाए। इसके बाद उसे ब्लीडिंग शुरू हो गई। दोनों एक प्राइवेट अस्पताल में पहुंचे। लड़की ने डॉक्टर को बताया कि खून नहीं रुक रहा है। इलाज के दौरान लड़की मौत हो गई। इस पर पुलिस ने डॉक्टर की सूचना पर मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है। लड़के को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। दोनों की जल्द ही शादी होने वाली थी। लड़का एक होटल में काम करता है।

टीआई कोलार चंद्रभान पटेल ने बताया कि रविवार रात करीब दो बजे एक निजी अस्पताल से फोन आया था। उन्होंने बताया कि 28 साल की एक लड़की की मौत हो गई है। उसके शरीर से काफी खून बह गया था। लड़की ने मरने से पहले बताया था कि वह मंडीदीप की रहने वाली थी। उसकी सगाई हो चुकी है। वह अपने मंगेतार के पास भोपाल मिलने आई थी। दोनों ने शाम करीब 5 बजे फिजिकल रिलेशन बनाए। इस दौरान ब्लीडिंग शुरू हो गई। मंगेतर पहले उसे पास के एक अस्पताल ले गया था। फिर वहां से दूसरे हॉस्पिटल। डॉक्टर रानी ने बताया कि काफी कोशिशों के बाद भी ब्लीडिंग बंद नहीं हो सकी। इस कारण उसकी मौत हो गई। उधर, पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है। अभी लड़की के परिजनों के बयान नहीं हो पाए हैं। अभी कोई मामला नहीं बनाया है। पूछताछ के लिए लड़के को हिरासत में रखा है।

कानूनी सलाह ले रहे हैं : टीआई
टीआई ने बताया कि रविवार को दोनों साथ थे। वे बालिग हैं और उनकी सगाई भी हो चुकी है। लड़की ने डॉक्टर को दिए बयान में भी कुछ संदिग्ध नहीं बताया। मामले की जांच कर रहे हैं। बयानों और कानूनी सलाह लेने के बाद ही इस मामले में आगे कुछ कहा जा सकेगा।

पोस्टमॉर्टम के बाद पता चलेगा सही कारण
जेपी अस्पताल की गायनोकोलॉजिस्ट डॉ. श्रद्धा अग्रवाल ने बताया कि ऐसे मामले संवेदनशील होते हैं। ब्लीडिंग के कई कारण हो सकते हैं। ऐसे मामलों में पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट अहम होती है। उसके अलावा खून निकलने के कारणों के बारे में कुछ भी बता पाना मुश्किल है।

खबरें और भी हैं...