• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Women Will Reduce Interest On Loans Up To Three Lakh Rupees, Separate Funds Will Also Be Created.

महिला शक्ति को नमन:महिलाओं को तीन लाख रुपए तक कर्ज पर ब्याज में कमी होगी, अलग से कोष भी बनेगा

भोपाल9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इरशद अली - Dainik Bhaskar
इरशद अली
  • मुख्यमंत्री की गाड़ी चलाएंगी इरशद अली, पूरे कारकेड में ड्राइवर महिला होंगी, ट्रैफिक भी उनके हाथ
  • अभी अनुदान के बाद भी 4% ब्याज देना पड़ता है

मप्र में महिला स्व सहायता समूहों को राज्य सरकार और राहत देने जा रही है। उन्हें मिलने वाले तीन लाख रुपए तक के कर्ज में ब्याज की राशि एक से दो प्रतिशत तक कम हो सकती है। अभी उन्हें अनुदान के बाद भी 4 फीसदी ब्याज देना पड़ता है जो कम होगा। इसके साथ अलग कोष का भी गठन हो सकता है, जिसमें अलग-अलग विभाग महिलाओं की योजनाओं से जुड़ा पैसा उसमें रखेंगे।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सोमवार को राज्य सरकार महिलाओं पर कई बड़ी घोषणा कर सकती है। महिला दिवस का मुख्य कार्यक्रम मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में होगा। महिलाओं के हुनर को बढ़ाने के लिए अलग से वूमन ट्रेनिंग सेंटर भोपाल में खोलने का भी ऐलान हो सकता है। इस दौरान पूरे समय सीएम की पत्नी साधना सिंह भी साथ होंगी।

भोपाल हाट में राज्य स्तरीय हुनर-हाट की शुरुआत सोमवार से होगी। इसमें 8 से 10 मार्च तक प्रदेश के विभिन्न जिलों के स्व-सहायता समूहों की परिश्रमी और हुनरमंद महिलाओं द्वारा तैयार विभिन्न उत्पादों का प्रदर्शन होगा। इसमें कोदो-कुटकी से बने हुए स्वादिष्ट एवं पौष्टिक व्यंजन जैसे बिस्कुट, नमकीन, गोंड पेंटिग, पावरलूम की चादरें, सुपारी के खिलौनें, शहद, काष्ठ शिल्प, बांस के खिलौनें, वेल मेटल, साडियां, श्रृंगार सामग्री, सूट एवं ड्रेस मेटेरियल आदि का प्रदर्शन और विक्रय किया जाएगा।

महिला दिवस पर ये भी होगा
- जिलों में अपराजिता, जागरूकता रैली, साईकिल रैली, सेफ्टी वॉक सेफ्टी ऑडिट, परिचर्चाओं और हुनर-हाट जैसे कार्यक्रम होंगे। छात्राओं को मार्शल आर्टस का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
- पौधरोपण महिलाओं के साथ होगा।
- महिला स्व-सहायता समूह के सदस्यों को लगभग 200 करोड़ रुपए का बैंक ऋण भी वितरित किया जाएगा।
- ग्राम पंचायतों में मुख्य कार्यक्रम का प्रसारण होगा। इस दौरान पंचायतों में भी महिलाएं ही कार्यक्रम संचालित करेंगी। मुख्यमंत्री महिलाओं से ही बात करेंगे।

फॉर द वुमेन, बाय द वुमेन, ऑफ द वुमेन की तर्ज पर काम होगा

  • मुख्यमंत्री अपने दिन की शुरुआत स्मार्ट सिटी रोड पर महिला पत्रकारों के साथ करेंगे। दिनभर उनकी सुरक्षा 40 महिला पुलिस अफसरों के जिम्मे होगी। उनका वाहन आरआई इरशद अली खान चलाएंगी।
  • मुख्यमंत्री के कारकेड और अन्य सुरक्षा व्यवस्था 19 महिला सब इंस्पेक्टर और आठ महिला सिपाहियों को सौंपी गई है।
  • मुख्यमंत्री जहां भी जाएंगे, ट्रैफिक महिलाएं देखेंगी। मुख्य कार्यक्रम के मंच पर भी सीएम के अलावा सिर्फ महिलाएं होंगी। एडवांस सिक्योरिटी लाइजनिंग में पुरुष अफसर मदद करेंगे।

विधानसभा की आसंदी पर महिला सभापति

महिला दिवस पर सोमवार को विधानसभा में अध्यक्ष की आसंदी पर महिला सभापति को ज्यादा समय दिया जा सकता है। प्रश्नकाल व अन्य कार्यवाही में भी महिला विधायकों को ही अधिक महत्व दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...