पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आंकड़ों की हेराफेरी:स्वास्थ्य विभाग के पोर्टल पर 51 मरीज, जबकि विदिशा मेडिकल कॉलेज से आई सूची में 178

रायसेन13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 5 अप्रैल को भेजे गए थे 378 सैंपल, 178 पॉजिटिव,14 इनवेलिड, 186 निगेटिव

जिले में बुधवार को 378 सैंपलों की जांच रिपोर्ट डरा देने वाली आई है। ऐसा इसलिए की एक ही दिन में जिले में 178 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई हैं। यह रिपोर्ट अटल बिहारी वाजपेयी गवर्मेंट मेडिकल कॉलेज विदिशा द्वारा स्वास्थ्य विभाग को जारी की गई है, जो भास्कर के पास भी उपलब्ध है, जबकि स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक महज 51 मरीज ही मिले हैं।

इस मामले में स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि ऐसा इसलिए हुआ है क्योंकि होम आइसोलेशन वालों ने दोबारा टेस्ट कराया। जब हमने इस बात की पड़ताल की तो सामने आया कि होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों का दूसरा कोविड टेस्ट कराने का प्रावधान ही नहीं है। जांच के लिए भेजे गए कुल सैंपलों में 14 सैंपल इनवेलिड आए हैं। यानी कि इनकी जांच से निगेटिव और पॉजिटिव का पता नहीं चला है।

सबसे बड़ी चिंता की बात ये है कि 5 अप्रैल को भेजे गए कुल सैंपलों में से 47 प्रतिशत रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इससे पहले 20 जुलाई 2020 को बरेली उप जेल में एक साथ 67 लोग पॉजिटिव आए थे,जबकि इसी दिन जिले में कुल 74 की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी।

शहर में मिले 31 पॉजिटिव मरीज, फिर भी जानलेवा लापरवाही

जहां एक और रोज ही जिला सहित शहर में बड़ी संख्या में कोेरोना पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैं। बुधवार को शहर में 31 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इसके बावजूद शहर की बाजार में लोगों की भीड़ और बिना मास्क लगाए घूम रहे लोगों को देखकर ये लगता नहीं कि शहर में कोरोना संक्रमण फैलने जैसी कोई स्थिति बनी हुई है।

कोरोना पॉजिटिव मरीज बढ़ने के तीन कारण
1. कोविड गाइड लाइन का उल्लंघन :
जिले में कोविड की गाइड लाइन का पालन नहीं किया जा रहा है। शहर सहित जिले में लोग कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए न तो मास्क लगा रहे हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं।

2. नहीं बनाए जा रहे कंटेनमेंट जोन :कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद शहर सहित अधिकतर जगहों पर कंटेनमेंट क्षेत्र भी नहीं बनाए जा रहे हैं, यहां तक कोरोना संक्रमित मरीजों के घरों के बाहर तक बेरीकेड्स नहीं रखे जा रहे हैं।

3. होम आइसोलेशन का भी नहीं होता सुपरविजन : होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। जिले में होम आइसोलेट 225 पर पहुंच गई,लेकिन स्वास्थ्य विभाग की मॉनिटरिंग भी औपचारिकता ही है।

यहां भी लापरवाही 1 दिन पहले जामगढ़ में मिले 28 मरीज
बरेली के जामगढ़ में एक दिन पहले बुधवार को 28 मरीज मिल चुके हैं। इसके बावजूद वहां स्वास्थ्य विभाग ने घर-घर सर्वे नहीं कराया है। नाम न छापने की शर्त पर ग्रामीणों ने बताया कि चार दिन पहले स्वास्थ्य शिविर में 40 लोग जांच में से ही 28 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। 2000 की आबादी वाले गांव में गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग ने सर्वे भी नहीं कराया।

सीधी बात: दिनेश खत्री, सीएमएचओ

एक ही दिन में 178 की रिपोर्ट पॉजिटिव मिलना कितनी चिंता की बात है।

ऐसा नहीं है इस सूची में कई लोगों की दो से अधिक टेस्ट भी शामिल होते हैं इसलिए संख्या बढ़ जाती है।
होम आइसालेशन में रह रहे मरीजों की दूसरी जांच का प्रावधान ही नहीं हैं।

ये सही है जो मरीज जांच कराने पहुंच जाए तो उनको मना भी नहीं कर सकते।

पॉजिटिव मरीजों की संख्या छिपाई क्यों जाती हैं।

ऐसा नहीं है कोविन पोर्टल पर रोज ही संख्या अपडेट की जाती है।

आप मानते हैं कि कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।

ये सही है और चिंता की बात है हम हर संभव प्रयास कर रहे हैं।

7 अप्रैल 2021 को आई रिपोर्ट के अनुसार पॉजिटिव मरीज
तहसील कोविड के मरीज
रायसेन 31
मंडीदीदी 33
औबेदुल्लागंज 55
सिलवानी 09
गैरतगंज 50
कुल 178

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें