समस्या / व्यापार महासंघ के निर्णय से नाराज छोटे व्यापारी बोले- 2 महीने से परेशानी, अब तो हमारा साथ दो

X

  • कलेक्टर ने सुबह 7 बजे से शाम 7 तक सभी प्रकार की दुकानें खोलने के आदेश जारी किए हैं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

रायसेन. कलेक्टर ने सुबह 7 बजे से शाम 7 तक सभी प्रकार की दुकानें खोलने के आदेश जारी किए हैं। इससे नगर के सभी व्यापारियों ने राहत की सांस ली थी, लेकिन नगर के व्यापार महासंघ ने 2 बजे तक ही बाजार खोलने का निर्णय लिया है। जिसकी सूचना वॉट्सएप के जरिए व्यापारियों को दी है। जिसके चलते छोटे व्यापारी नाराज बने हुए हैं। 

कई व्यापारियों ने आरोप लगाया कि बिना व्यापारियों से चर्चा किए बिना ही निर्णय लेना गलत है। दो महीने से  छोटे व्यापारी घर बैठे हैं। जैसे तैसे शासन ने व्यापार खोलने की छूट दी थी तो अब व्यापार महासंघ ने अड़ंगा डाल दिया हैं जिससे छोटे व्यापारियों का धंधा पूरी तरह से चौपट है। कई व्यापारियों को तो खाने के लाले पड़ रहें हैं। बड़े व्यापारियों का व्यवसाय चल रहा है लेकिन छोटे व्यापारी अभी भी व्यवसाय नहीं चलने से परेशान है ओर  बाजार जल्द बन्द करने से ओर परेशानी हो रही हैं। लॉकडाउन के 60 दिन बाद भी  2 बजे तक खुलने वाले व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को लेकर छोटे व्यापारियों में रोष है।

महासंघ के निर्णय के पक्ष में हम नहीं हैं
व्यापारी वीरेंद्र राय ने बताया कि व्यापारी महासंघ के द्वारा बढ़ाए जाने वाली समय के पक्ष में हम नहीं हैं और न ही शनिवार बंद के पक्षधर हैं। जब शासन छूट दे रहा तो नियमों का  पालन कर व्यवसाय करना चाहिए। मोबाइल दुकान संचालक राहुल चौधरी ने बताया कि वह प्रतिदिन भोड़िया से आता हैं। आते आते 10 बज जाते हैं और 2 बजे दुकान बंद करना पड़ रही है जबकि पूर्व में कुछ व्यापारियों ने प्रशासन से मांग की थी। 

समन्वय बनाकर ही लेना चाहिए कोई निर्णय
व्यापारी अनिल भार्गव ने बताया कि व्यापार महासंघ को सभी व्यापारियों से समन्वय बनाकर कोई निर्णय लेना चाहिए था। सभी छोटे व्यापारियों को भी अपनी बात कहने का मौका दिया जाए जिससे कि किराना व्यापारियों से हटकर अन्य व्यवसाय कर रहे व्यापारियों की व्यापारिक स्थिति स्पष्ट हो सके। वहीं हिं.उ.स कार्यवाहक अध्यक्ष दिनेश बवेले ने बताया कि एक निश्चित समय के लिए खुलने वाले व्यवसायिक प्रतिष्ठानों पर हमेशा भीड़ बनी ही रहेगी बेहतर होगा कि दुकान खुलने का समय बढ़ाया जाए। 
नगर के लिए जरूरी था निर्णय
अनिल जैन, महामंत्री व्यापार महासंघ के मुताबिक, व्यापार महासंघ के द्वारा निर्णय लेने से पूर्व सभी व्यापारियों को मोबाइल के माध्यम से मैसेज कर दिया गया था वही व्यापार महासंघ के द्वारा लिए जाने वाला निर्णय क्षेत्र के हित को ध्यान में रखते हुए लिया गया है क्योंकि गत दिवस हमारे क्षेत्र में भी कोरोना पॉजिटिव मरीज पाया गया है इसलिए ऐसा निर्णय लेना जरूरी हो गया था। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना