पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गाइडलाइन का पालन:494 पंचायताें में से 222 में कोरोना संक्रमण 5 पंचायतें बनीं हॉट स्पॉट, 916 पॉजिटिव मिले

रायसेन12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बाड़ी जनपद में आने वाली जामगढ़ पंचायत में भी संक्रमण फैल चुका है। यहां 34 ग्रामीणों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हर घर में सर्दी, खासी और बुखार के मरीज मिलने लगे हैं। गांव के पटेल राममोहन शर्मा ने बताया की हमने प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर लोगों की जांच कराई और कोरोना किट का वितरण किया। संक्रमित लोग अपने घरों में रहे और होम आइसोलेशन में रहकर गाइड लाइन का पालन किया। अब सभी स्वस्थ हैं।

जिले के उदयपुरा में आने वाली देवरी पंचायत भी कोरोना संक्रमण को लेकर हॉट स्पॉट बनी हुई है। यहां 47 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। संख्या के लिहाज से सबसे अधिक पॉजिटिव मरीज मिलने वाली पंचायत बन गई है। नरसिंहपुर जिले की सीमा लगी होने के कारण वहां की गई सख्ती के बाद देवरी में वहां के लोग नर्मदा पार करके इलाज और सामान खरीदी के लिए आने लगे। इसके अलावा यहां के रहवासियों को प्रदेश सहित महाराष्ट्र तक बड़े-बड़े शहरों में आना-जाना लगा रहा। लॉकडाउन के पालन में भी शुरुआती समय में लापरवाही देखने को मिली। इसका नतीजा यह हुआ कि देवरी कोरोना संक्रमण को लेकर हॉट स्पॉट बन गई। हालांकि अब सख्ती बरती जा रही है।

गैरतगंज ब्लॉक में आने वाला गांव रमपुरा कला में 2200 लोगों की आबादी निवास करती है। बावजूद यहां 22 काेराेना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं। 4 मई को एक गांव की एक महिला की भोपाल के चिरायु अस्पताल में कोरोना संक्रमण से मौत भी हो गई। इतना ही नहीं पंचायत के सरपंच और सचिव भी संक्रमित हो चुके हैं। इस गांव में 7 अप्रैल से 3 पॉजिटव मरीज मिलने से संक्रमण का सिलसिला शुरू हुआ तो 30 मई तक यहां 22 पॉजिटिव मरीज मिल चुके थे। गांव में घर-घर सर्वे करवाकर जांच की गई और कोरोना किटों का वितरण किया गया।

बाड़ी जनपद में आने वाली महेश्वर पंचायत में तो संक्रमण ने लोगों को दहशत में ला दिया है। यहां एक मौत के बाद जनाजे में भीड़ जमा हुई। इसके बाद से घर-घर सर्दी, खांसी और बुखार के मरीजों का मिलना शुरू हो गया। वैक्सीनेशन केंद्र प्रभारी भाजपा के रमेश साद बताते हैं कि हमारे यहां प्रशासनिक लापरवाही रही। हर घर में मरीज थे। हमने दुकानें बंद कराने एसडीएम को ज्ञापन देने पहुंचे लेकिन उन्होंने ज्ञापन नहीं लिया। उल्टा दहशत फैलाने के आरोप में हमको ही नोटिस थमा दिया। जब स्थिति बिगड़ गई तक जागे, तब संक्रमण फैल चुका था। अप्रैल में ही गांव में 26 से अधिक मौतें हुई हैं। यह कोई छोटा आंकड़ा नहीं है। मौत के कारण अलग-अलग हो सकते हैं, लेकिन संख्या बहुत ज्यादा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें