पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नवरात्र:दुर्गा मंदिरों में श्रद्धालु कम पहुंचे, दर्शन में लगा समय

रायसेन9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले दिन शहर में करीब 50 दरबार सजे, विराजित की दुर्गा प्रतिमाएं, घट स्थापना की

जिले भर के प्रसिद्ध दुर्गा मंदिरों में नवरात्रि के पहले दिन श्रद्धालुओं को दर्शन करने के लिए काफी इंतजार करना पड़ा। ऐसा इसलिए की सभी मंदिरों में इस बात का ध्यान रखा गया कि वहां अधिक भीड़ जमा न हो। इसके लिए कहीं 5 तो कहीं 10- 10 श्रद्धालुओं को ही प्रवेश दिया गया। इसके चलते मंदिरों के बाहर लगी लाइनों में लोगों का अपना नंबर आने के लिए इंतजार करना पड़ा। शहर के गंजबाजार, गोपालपुर, तहसील कार्यालय , मुखर्जीनगर, तालाब मोहल्ला, चौपड़ा, दशहरा मैदान, जिला अस्पताल स्थित देवी मंदिरों में सुबह 4 बजे से ही श्रद्धालुओं का दर्शन के लिए पहुंचना शुरु हो गया। जो दिन देर रात चलता रहा । हालांकि बीते सालों की तुलना में इस बार लोगों की भीड़ कम रही । इसका का कारण कोरोना इफेक्ट बताया जा रहा है। वहीं शहर के गली मोहल्लों में सजाए गए पंडाल में विधि विधान से देवी मां की प्रतिमाओं की स्थापना की गई लेकिन बीते सालों की तरह शहर में ढोल ढमाकों की आवाज कम ही सुनाई दी । बाड़ी- पुजारी करते रहे गाइड लाइन के पालन के लिए निवेदन बाड़ी स्थित मां हिंगलाज शक्ति पीठ पर शनिवार को सुबह 4 बजे से श्रद्घालुओं द्वारा जल चड़ाना शुरु कर दिया गया । लेकिन इस बार उन्हें दर्शन के लिए काफी इंतजार भी करना पड़ा । उसकी मुख्य वजह सोशल डिस्टेंस का पालन कराना और मंदिर के अंदर सिर्फ 5-5 लोगों को ही प्रवेश देना रही । कोविड 19 का संक्रमण न फैले इसलिए मंदिर में गाइड लाइन का पालन करने की पूरी व्यवस्था की गई । हालांकि मंदिर के बाहर श्रद्धालुओं की लाइन लगी रही । इस दौरान पंडित ब्रजकिशोर तिवारी श्रद्धालुओं से सोशल डिस्टेंस का पालन करने और फेस कवर करने के लिए बार-बार निवेदन करते रहे। पुलिस भी व्यवस्था बनाने जुटी रही। इसी तरह से जिले के प्रसिद्घ देवी मंदिरों में शामिल खंडेरा, और कंकाली धाम मंदिरों में भी मंदिर में कम-कम श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज किसी समाज सेवी संस्था अथवा किसी प्रिय मित्र की सहायता में समय व्यतीत होगा। धार्मिक तथा आध्यात्मिक कामों में भी आपकी रुचि रहेगी। युवा वर्ग अपनी मेहनत के अनुरूप शुभ परिणाम हासिल करेंगे। तथा ...

और पढ़ें