धन दे रही धान:सीजन में पहली बार 3200 क्विंटल धान आई अच्छे भाव होने से 5 साल में 3 गुना बढ़ी आवक

रायसेनएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले की मंडी में आसपास के छह जिलाें से आती है धान, निजी कंपनियां भी करती हैं खरीदी

शहर की कृषि उपज मंडी में पहली बार सीजन की 3200 क्विंटल नई धान की आवक हुई है। एक दिन पहले 2340 क्विंटल धान की नीलामी मंडी हुई थी। गुरुवार को कृषि उपज मंडी में अच्छी आवक के चलते मंडी परिसर के बड़े हिस्से में ट्रैक्टर-ट्राॅलियां खड़ी थीं। सभी अनाज व्यापारियों की दुकानों के सामने धान के बड़े-बड़े ढेर लगे हुए थे और वहां तुलाई का काम चल रहा था। सीजन में पहली बार इस तरह दृश्य शहर की मंडी में देखने को मिला है। दावत और टीएसएस जैसी कंपनियों द्वारा धान की खरीदी करने से रेट भी अच्छे मिल रहे हैं। आगामी दिनों में धान खरीदी करने वाली कंपनियों की संख्या और भी बढ़ सकती है। शहर की कृषि उपज मंडी में साल दर साल की धान की आवक बढ़ती ही जा रही है। पांच साल में ही धान की आवक 3 गुना हो गई है। वर्ष 2015-16 में जिले में 50 हजार 160 टन धान की आवक हुई थी जो पांच साल में वर्ष 2019-20 में बढ़कर 1 लाख 42 हजार 393 टन तक पहुंच गई। जिले में रकबा बढ़ने के साथ-साथ ही दूसरे जिलों से बड़ी मात्रा में धान शहर की मंडी में नीलामी के लिए लाई जाती है।

आवक इसलिए ज्यादा: 6 जिलों से आती है धान
शहर की कृषि उपज मंडी में रायसेन के अलावा भी दूसरे जिला से धान नीलामी के लिए लाई जाती है । इनमें भाेपाल, अशोकनगर, विदिशा, राजगढ़ और सागर जिला शामिल है। पीक सीजन में एक-एक दिन में 20 से 25 हजार क्विंटल तक धान की नीलामी शहर की कृषि उपज मंडी की जाती है।

बीते 4 दिनों में इस तरह हुई मंडी में आवक

तारीख कुल योग 12 अक्टूबर 852 क्विंटल 13 अक्टूबर 889 क्विंटल 14 अक्टूबर 2775 क्विंटल 15अक्टूबर 3619 क्विंटल

साल दर साल धान की इतनी आवक
वर्ष धान की आवक टन में

2015- 16 50160.4
2016- 17 67857.4
2017- 18 86409.3
2018-19 128300.2
2019- 20 142393.3
2020-21 5212.2
(अप्रैल से सितंबर तक)
इतना मिलता है मंडी शुल्क
वर्ष मंडी शुल्क से आए

2015- 16 61080578
2016- 17 64308140
2017-18 81356685
2018-19 82350571
2019- 20 64221056

मंडी में सभी जिंसों की 3600 क्विंटल आवक रही, 117 क्विं. सोयाबीन
मंडी में सभी जिंसों की आवक 3600 क्विंटल हुई है। सोयाबीन की आवक महज 117 क्विंटल हुई, लेकिन भाव 2600 रुपए प्रति क्विंटल तक मिला है। इस बार सोयाबीन की फसल खराब होने से उत्पादन भी बहुत कम हुआ है।
पूसा बासमती का होता है यूरोपीय देशों में एक्सपोर्ट
शहर की कृषि उपज मंडी में धान की खरीदी करने वाली कंपनियां यहां से खरीदी गई पूसा बासमती धान का यूरोप के देशों में भी एक्सपोर्ट करती हैं। हालांकि ईराक में अब यहां की धान का एक्सपोर्ट बंद हो गया है। टीएसएस फूड के संचालक और शहर के बड़े अनाज व्यापारी मिथलेश सोनी ने बताया कि उनकी कंपनी द्वारा भी यूरोप के देशों में धान को एक्सपोर्ट किया जाता है।
^सीजन में गुरुवार को कृषि उपज मंडी में सबसे अधिक आवक रही। धान 3200 क्विंटल और कुल आवक 3600 क्विंटल की हुई है। दावत और टीएसएस द्वारा धान की खरीदी की जा रही है। इससे रेट भी 2500 रुपए तक मिल रहे हैं।
-करुणेश तिवारी, सचिव, कृषि उपज मंडी रायसेन


खबरें और भी हैं...