कर्ज ने ली किसान की जान:खेती के लिए बैंक, सोसाइटी से लिया था 8 लाख रुपए का कर्ज, नोटिस मिलने से तनाव में आ गए थे

रायसेन24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
किसान के पास करीब 5 एकड़ भोपाल और 6 एकड़ रायसेन में जमीन थी। - Dainik Bhaskar
किसान के पास करीब 5 एकड़ भोपाल और 6 एकड़ रायसेन में जमीन थी।

बैंक, सोसाइटी और बिजली बिलों से कर्ज तले दबे एक किसान ने अपने खेत पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जमुनिया दीवानगंज के रहने वाले 65 साल के किसान गोरेलाल लोधी शुक्रवार शाम घर से खेत पर जाने का कहकर निकले थे। जहां उन्हाेंने आम के पेड़ से फांसी लगा ली। किसान के पास करीब 5 एकड़ भोपाल और 6 एकड़ रायसेन में जमीन थी।

मृतक किसान के बड़े बीरबल का कहना है कि बिजली बिल, सोसाइटी और बैंक का 8 लाख रुपए कर्ज था। कर्ज तले दबे पिता तनाव में चल रहे थे। हमारी भोपाल और रायसेन में कृषि भूमि है। बैंक द्वारा नोटिस दिया जा रहा था, इसी के चलते वे परेशान थे। पिता पर भोपाल की बैंक और रायसेन की बैंक और सोसाइटी का कर्ज था, बिजली बिल भी चुकाना था, इन्हीं सब बातों से परेशान होकर पिता ने यह कदम उठाया।