पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना योद्धाओं की कहानी:खुद पॉजिटिव हुए स्वस्थ होकर तत्काल ज्वाइन किया ताकि लोग भी हों सुरक्षित

रायसेन15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ड्यूटी लगाने व रिपोर्ट तैयार करने में जुटे कोरोना योद्धाओं की कहानी

कोरोना संक्रमण की पहली लहर से तो स्वास्थ्य अमले ने जंग जीत ली थी, लेकिन संक्रमण की दूसरी लहर ने आमजनों के साथ सबसे ज्यादा स्वास्थ्य अमले को झकझोर दिया था। स्वास्थ्य कर्मचारी लगातार डयूटी करने और स्टाफ के साथ मरीजों के संपर्क में आने से खुद भी पॉजिटिव हो गए लेकिन स्वास्थ्य लाभ लेकर तत्काल ड्यूटी ज्वाइन की ताकि कोरोना संक्रमण को हर हाल में हराया जा सके और लोगों की जिंदगी को बचाया जा सके। भास्कर ने पर्दे की पीछे कोरोना योद्धाओं की तरह पूरी जी जान से जुटे स्वास्थ्य कर्मियों बात की ।

जिला कार्यालय से मिले आदेशों को तत्काल पालन करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका रही। कम्प्यूटर के जरिए आदेशों को निकालकर अफसरों से लेकर कर्मचारियों तक पहुंचाना और दिनभर गतिविधियों की जानकारी अपडेट कर अफसराें तक पहुंचाना इनका काम था। इसके अलावा फ्री होते ही आफिस के अन्य कार्य भी देखने लगते हैं ताकि संक्रमण को लेकर बनाई रणनीति पर समय अनुकूल काम किया जा सके और आमजनों को भी परेशानी न हो। सक्रियता के चलते पिछले साला कोरोना योद्धाओं का सम्मान भी मिल चुका है।

स्वास्थ्य खराब में ड्यूटी पर
शरद गुर्जर वैक्सीनेशन के शुरूआत से ही 8 से 12 घण्टे की लगातार ड्यूटी संभाल। इनका काम वैक्सीनेशन का सेशन बनाना और पुरी मानिटरिंग करना गलतियों को सुधारना, ऑफिस का कार्य भी साथ करते हैं । बीच-बीच में अस्वास्थ्य भी रहे, लेकिन ड्यूटी पर जाना नही छोड़ा। बेगमगंज विकास खण्ड में 39305 लोगों वैक्सीन लग चुकी है। प्रथम डोज 35317 एवं दूसरा चार हजार के करीब लग चुके है।

ड्यूटी करते हुए थे पॉजिटिव
जय सिंह बीपीएम के पद पर पदस्थ है वैक्सीनेशन के प्रभारी होने के साथ-साथ बच्चों- गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण संभालना और आशा ऊषा कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग देना, वैक्सीनेशन के लिए प्रचार-प्रसार करना सहित अन्य महत्वपूर्ण जिम्मेदारी संभाल रहे है। कोराेना महामारी के दौरान पॉजिटिव हो गये थे,लेकिन स्वास्थ्य होने के तुरंत बाद फिर से जिम्मेदारी संभाली।

खबरें और भी हैं...