पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हिरणों से किसान परेशान:हिरणों का झुंड खेतों में घुसकर फसलों को कर रहे हैं नुकसान, मुआवजे की मांग

रायसेनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक तो बारिश नहीं होने से किसान वैसे ही परेशान हैं कि उसकी फसलें मुरझाने की कगार पर पहुंच गई हैं जिसके लिए वह तरह-तरह के जतन कर रहा है दूसरी ओर जंगल में विचरण करने वाले हिरणों के झुंड उगाई थोड़ी बहुत फसल को बर्बाद करने में लगे हुए हैं।

हर साल सोयाबीन की फसल बिगड़ने से लोगों ने इस बार धान की बोनी ज्यादा की है कुछ इलाके में सोयाबीन की बोनी भी की गई है लेकिन नगर के 5 किलोमीटर दूर ग्राम सुमेर सागोनी जेतपुरा बेरखेड़ी कोकलपुर, खजुरिया, झिरिया, चौका, कल्याणपुर, भुरेरु, खैरी, तिनघरा, नया नगर, बांसादेही, पांडाझिर, तुलसीपार, सलैया, हप्सिली, मड़िया, सहित दर्जनों ग्रामों में मुरझाने की कगार पर पहुंच गई फसल को बचाने के लिए किसान रात दिन पानी देकर उसे बचाने के प्रयास कर रहे हैं।

वही जंगल के हिरण उनकी फसलों को चट कर रहे हैं जिसे किसान बहुत अधिक परेशान हैं। हैरान परेशान किसान अपनी फसलों को बचाने के लिए रात दिन रखवाली करने के लिए मजबूर है वन विभाग में शिकायत करने पर या अधिकारियों के संज्ञान में लाने के बावजूद भी कोई उपाय जंगली जानवरों से फसलों को बचाने के लिए नहीं किए जा रहे हैं।

पीड़ित किसानों भगवान सिंह सोलंकी राजेंद्र सिंह पटेल यूनुस अली सलाम खान जाहर सिंह लोधी राकेश जैन इस्माइल खान गोविंद सिंह गौर सुरेंद्र सिंह कुशवाह सहित दर्जनों किसानों ने जंगली जानवरों के जरिए फसलों को जो बर्बाद किया जा रहा है उसका मुआवजा वन विभाग से दिलाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...