पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महिला की हुई पहचान, पति फरार:पति से हुई थी कहासुनी, इसलिए दो बेटियों के साथ ट्रेन के सामने कूदी

रायसेनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गुरुवार की सुबह दो बेटियों के साथ ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या करने वाली महिला की पहचान हो गई है। सलामतपुर थाने से मिली जानकारी के अनुसार रातातलाई ग्रापं की मूंगफली कालोनी की रहने वाली इस महिला की पहचान गणेशी बाई शाक्या पत्नी कैलाश शाक्या के रुप में हुई है घटना वाले दिन उक्त महिला की अपने पति के साथ कहासुनी हुई थी। इस कहासुनी के बाद उसने यह कदम उठा लिया था। गणेशी बाई यहां सिलाई का काम करती थी। उसकी बड़ी बेटी पार्वती उम्र 6 वर्ष व छोटी आरती शाक्या उम्र लगभग डेढ़ वर्ष था। इनकी भी ट्रेन से कटने से मौत हो गई थी।

घटना के बारे में पूछने पर पड़ोसियों ने बताया सुबह हुई थी कहासुनी
मृतिका गणेशी बाई शाक्या के पति कैलाश शाक्या ने दो शादियां की हैं। उसकी पहली शादी लगभग 15 वर्ष पहले सरजू बाई के साथ हुई थी। जिससे उसको तीन बच्चे हैं। कैलाश ने बच्चों को अपने पास रखकर पहली पत्नी को घर से भगा दिया था। फिर 7 साल बाद गणेशी बाई से शादी की थी। जिससे उसको 2 लड़कियां हुई थी। मोहल्ले के लोगों ने बताया है कि गुरुवार के दिन सुबह गणेशी बाई की पति कैलाश से कुछ कहासुनी हो गई थी। इसके बाद वह गुस्से में अपनी दोनों लड़कियों को लेकर सलामतपुर रेलवे स्टेशन पहुंच गई और ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली।
घटना के बाद से ही पति है फरार
शुक्रवार को जब मृतिका की शिनाख्त हुई तो पुलिस ने मूंगफली कालोनी में कैलाश शाक्या मिस्त्री के घर दबिश दी। वहां पता चला कि वह गुरुवार की घटना के बाद से घर से फरार है। वहीं गुरुवार को हुई घटना के समय रेलवे स्टेशन पर मौजूद एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि कैलाश घटना के बाद रेलवे स्टेशन पहुंचा था और उसने घटना के बारे में पूछा भी था, लेकिन उसने वहां किसी को नही बताया कि मरने वाली उसकी पत्नी गणेशी व दोनों पुत्रियां थी।

खबरें और भी हैं...