खाद वितरण:अब बांट रहे दो दिन के टोकन, नहीं लगती लंबी लाइनें

रायसेनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसानों के बीच होने वाली धक्का मुक्की काे रोकने के लिए लागू की नई व्यवस्था

भोपाल रोड स्थित विपणन विभाग की खाद गोदाम पर खाद लेने के लिए बड़ी संख्या में किसान उमड़ रहे हैं, जिससे यहां पर पहले खाद लेने की होड़ में रोजाना किसानों के बीच वाद-विवाद और धक्का मुक्की की स्थिति बन रही थी। इतना ही नहीं यहां पर बार-बार पुलिस को भी बुलाना पड़ रही थी।

इस समस्या का स्थाई हल निकालने के लिए अब नई व्यवस्था लागू की गई है, जिसमें किसानों को दो दिनों के हिसाब से पहले ही टोकन बांटे जा रहे हैं, जिसका जो दिन निर्धारित है, वह किसान उस दिन गोदाम पर आकर अपने लिए खाद प्राप्त कर सकता है।

इतना ही नहीं खाद लेने के लिए पहुंचने वाले किसानों को अब लाइन में भी लगने की जरूरत नहीं है, वह खाद गोदाम में आकर कहीं पर भी बैठ जाए, उसे माइक के माध्यम से आवाज लगाकर बुला लिया जाएगा। इस नई व्यवस्था के लागू होने के बाद अब खाद गोदाम पर लाइनें दिखना बंद हो गई है और किसानों को अब आसानी से खाद भी मिलने लगा है, जिससे किसानों को भी बड़ी राहत मिल गई है।

मिला 1350 टन यूरिया
रायसेन जिले के लिए 1350 टन यूरिया मिला है, जिसमें गंज बासौदा रेक से 350 टन, सागर से 200 टन, पिपरिया से 800 टन यूरिया खाद मिला है, जिससे डबल लॉक केंद्र और सोसायटियों पर पहुंचा दिया है। विपणन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अब तक 30 हजार टन यूरिया, 15 हजार टन डीएपी और 5500 टन एनपीके खाद बंट चुका है।

खबरें और भी हैं...