समस्या / जिस मार्ग से दो पहिया वाहन नहीं निकल पाते थे, वहां से अतिक्रमण हटा तो बड़े वाहन आसानी से निकले

Removed the encroachment from the path where two-wheelers could not come out, then large vehicles came out easily
X
Removed the encroachment from the path where two-wheelers could not come out, then large vehicles came out easily

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

रायसेन. इंडियन चौराहे से लेकर रामलीला प्रवेश द्वार तक शहर का मुख्य मार्ग पूरी तरह से अतिक्रमण की चपेट में आ गया था। इसको हटाने के लिए दूसरे दिन शुक्रवार को भी प्रशासन और नगरपालिका की टीम ने सुबह 9 बजे  इंडियन चौराहे पर पहुंची। 5 घंटे की मशक्कत के बाद वहां 60 से अधिक फल, सब्जी, अंडे, चाट-पकोड़े और चाय की गुमठियां हटा दी गईं। इससे शहर के प्रमुख संयम-सागर मार्ग से पहले जहां बाइक निकलना भी मुश्किल होती थी, अतिक्रमण हटने के बाद अब वहां से चार पहिया वाहन भी आसानी से निकलने लगे। एक दिन पहले कलेक्टोरेट कॉलोनी में बनाए गए योगा पार्क के पीछे की झुग्गियों को भी हटाया गया था। 
सुबह तहसीलदार अजय कुमार पटेल, नपा सीएमओ ओमपालसिंह भदौरिया और थाना प्रभारी जगदीश सिद्धु इंडियन चौराहे पर जेसीबी लेकर पहुंचे। पहले तो लोगों ने प्रयास किया कि उनके अतिक्रमण न हटाने पड़े, लेकिन जब उन्हें लगा कि अधिकारी पूरी तरह से कार्रवाई के मूड में हैं, तो लोगों ने खुद ही अपनी बांस-बल्लियां निकालकर हाथ ठेलों में रखना शुरू कर दिए। हालांकि उद्योग विभाग के पास सब्जी और फल विक्रेताओं ने बांस, बल्लियों और लोहे की जालियां लगाकर दुकानों के लिए बड़े-बड़े स्ट्रेक्चर तैयार कर लिए थे। उन्हें जेसीबी से हटा दिया गया। इस दौरान सब्जी और फल विक्रेताओं को कहना था कि लॉकडाउन के कारण पहले से दो महीने से धंधा बंद पड़ा है अब दुकानें खोलने की तैयारी कर रहे थे हाथ ठेले ही हटा दिए गए। अब परिवार पालना मुश्किल होगा। 

पहले ऐसे रोजाना लगता था ट्रैफिक जाम
शहरवासियों के मुताबिक जो अतिक्रमण हटाया गया है वह करीब 30 साल से चला आ रहा है। इस अवधि में कई बार यहां से हाथठेले और गुमठियां हटाई जा चुकी हैं, लेकिन फिर अतिक्रमण हो जाता है। इसलिए अफसरों को इन स्थानों की निगरानी करानी होगी। तब कहीं जाकर अतिक्रमण रोकेगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना