पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस भर्ती में मिलती है प्राथमिकता, जिम्मेदारी से करें काम:ग्रामीण एवं नगर रक्षा समिति के 200 सदस्यों के जिला स्तरीय सम्मेलन में बोले एसपी-एएसपी

रायसेन22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शहर की पुलिस लाइन में बुधवार को नगर एवं ग्रामीण रक्षा समितियों का जिला स्तरीय सम्मेलन रखा गया। इस दौरान जिले के सभी ब्लॉक और तहसीलों से आए हुए 200 से अधिक सदस्य मौजूद रहे। इस दौरान एसपी मोनिका शुक्ला और एएसपी अमृत मीणा ने सदस्यों के साथ संवाद किया और उन्हें भी बेहतर काम करने के टिप्स भी दिए।

इस दौरान एएसपी अमृत मीणा ने कहा कि आप लोगों को मानदेय भी नहीं मिलता, इसके बाद भी आप जब भी जरूरत हो पुलिस का सहयोग करते आ रहे हों। पुलिस महकमें में आपके काम को सम्मान से देखा जाता है। इतना ही नहीं बंदूक का लाइसेंस हो या पुलिस भर्ती,आम लोगों की तुलना में सदस्यों को प्राथमिकता दी जाती है।

बांटी गई टी-शर्ट और महिलाओं को साड़ियां : सम्मेलन में शामिल होने आए सभी सदस्यों को आसमानी रंग की टी-शर्ट और महिला सदस्यों को साड़ियां वितरित की। सभी ब्लॉक और तहसील से आए एक-एक सदस्य को एसपी मोनिका शुक्ला ने अपने हाथों से टी-शर्ट और साड़ियां बांटी। इसके बाद सभी सदस्यों को भी वितरित की गईं।

पुलिस के साथ गश्त करेंगे
सम्मेलन के दौरान एसपी मोनिका शुक्ला ने रात्रि गश्त पर पूछने पर कई सदस्यों ने हाथ उठाए। इसको देखते हुए एसपी शुक्ला ने निर्देश दिए कि दो पुलिस कर्मचारियों के साथ एक रक्षा समिति के सदस्य को भी शामिल कर किया जाएगा।

बेहतर काम वालों को प्रमाण पत्र
एसपी ने सम्मेलन में कहा कि कोविड के दौरान पुलिस का सहयोग करने वाले सदस्यों को थानों के माध्यम से प्रमाण पत्र प्रदान किए गए हैं। जिन सदस्यों को नहीं मिले, उनके द्वारा कोविड के दौरान किए गए कामों की थानों से जानकारी लेकर प्रमाण पत्र दिए जाएंगे।

बलवा ड्रिल और ट्रैफिक के सिग्नलों की दी जानकारी
सम्मेलन में शामिल सदस्यों को आरआई बीएस चौहान ने बलवा ड्रिल के बारे में बताया कि इस तरह की घटनाओं में वे पुलिस का किस तरह से सहयोग कर सकते हैं। साथ ही मेले और बड़े धार्मिक आयोजनों में सदस्यों की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है।

खबरें और भी हैं...