550 ट्राॅली धान की आवक:कॉलोनी का रोड बंद न हो इसलिए नहीं खोला मंडी का तीसरा गेट, भोपाल रोड पर लगीं ट्रॉली

रायसेनएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में गुरुवार को 550 ट्राॅली धान की आवक हुई। चौबीसों घंटे ट्रैक्टर-ट्राॅलियों की आवाजाही से ट्रैफिक भी बिगड़ा हुआ है। भोपाल रोड पर ट्रैफिक जाम न हाे इसके लिए कृषि उपज मंडी में तीसरा गेट भी बनाया गया है लेकिन पीक सीजन हाेने के बावजूद इस गेट काे बंद रखने से ट्रालियों की लाइन भोपाल रोड पर लग जाती है। इससे इस प्रमुख राेड पर ट्रैफिक जाम हाेता है। जाम की स्थिति राेकने के लिए गुरुवार को ट्रैफिक पुलिस के जवान भाेपाल राेड पर तैनात रहे। वहीं जिम्मेदारों के मुताबिक कृषि उपज मंडी का तीसरा गेट हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी की सड़क पर खुलने के कारण उसे बंद रखा गया है। एेसा इसलिए किया गया है ताकि वहां के रहवासियों को रास्ता ट्रालियों से न रुके।
ट्रैफिक जाम न हाे इसलिए ही बनाया गया था तीसरा गेट : पहले शहर की कृषि उपज मंडी में भोपाल रोड पर दो गेट थे। सीजन में धान की बंपर आवक के कारण भोपाल रोड पर ट्रैफिक जाम की समस्या आती थी। इसके समाधान के तौर पर मंडी में पीछे की तरफ तीसरा गेट लगा दिया गया। इसके बाद तय हुआ कि धान की बंपर आवक होने पर नीलामी के बाद तीसरे गेट से ही ट्राॅलियों को प्रवेश दिया जाएगा। इससे भोपाल रोड पर जाम न लगेगा लेकिन अब ऐसा नहीं किया जा रहा है।
परिवहन न हाेने से परिसर में भी धान रखी है : कृषि उपज मंडी में इस समय व्यापारियों द्वारा खरीदी जा रही धान भी मंडी परिसर में रखी रहती है। इससे परिसर का बड़ा हिस्सा घिर जाता है। खरीदी गई धान का परिवहन समय पर न होेने के कारण ऐसी स्थिति बनती है। मंडी का तीसरा गेट खोले जाने पर परिसर में ही जाम की स्थिति बन जाती है।

नहीं खोला गया तीसरा गेट
^शहर की कृषि उपज मंडी में तीन गेट हैं। लेकिन हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी का रास्ता बंद न हो और मंडी के अंदर भी परेशानी न हो इसलिए तीसरा गेट बंद रखा गया है। बहुत अधिक जरुरत होने पर ही इसे खोला जाएगा।
-करुणेश तिवारी, सचिव, कृषि उपज मंडी रायसेन

खबरें और भी हैं...