पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:भोपाल से 50 लाख की अवैध शराब लेकर निकला ट्रक, 5 थानों के सामने से गुजर गया, सांची में पकड़ा

रायसेन8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जब्त शराब की पेटियां। - Dainik Bhaskar
जब्त शराब की पेटियां।
  • उप चुनाव को लेकर दीवानगंज सहित 10 प्वाइंट पर 24 घंटे वाहन जांच का दावा

सांची विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव को लेकर जिले में चुनाव की आदर्श आचार संहिता लागू है। वाहनों की जांच के लिए दीवानगंज सहित जिले के 10 स्थानों पर चेक पोस्ट बनाए गए हैं। पुलिस द्वारा इनमें चौबीसों घंटे वाहनों की जांच का दावा किया जा रहा है। इसके बावजूद सोमवार रात भोपाल के गांधी नगर से करीब 50 लाख रुपए कीमत की अंग्रेजी शराब की 450 पेटियां भरकर एक मिनी ट्रक काे रवाना किया गया जाे भोपाल के थाना गांधीनगर, थाना करोद, थाना सूखी सेवनिया के सामने से हाेते हुए रायसेन की दीवानगंज चौकी, सलामतपुर थाने के सामने से होता हुआ सांची तक पहुंच गया। इस ट्रक काे शराब की खेप विदिशा पहुंचाने से पहले ही सोमवार की रात 11.30 बजे सांची पुलिस ने पकड़ लिया लेकिन इससे उप चुनाव को लेकर पुलिस द्वारा की जा रही वाहनों की जांच पर ही सवाल खड़े हो गए हैं।

भाेपाल से विदिशा भेजी जा रही इस शराब के परिवहन के परमिट पर बैच नंबर दर्ज नहीं था, इसलिए इस शराब को अवैध माना गया है। एसडीओपी अदिति भावसर और सांची थाना प्रभारी एमएल भाटी की टीम ने जांच के दौरान सांची तिराहे पर इस ट्रक को पकड़ा।

आबकारी उप निरीक्षक काे किया निलंबित
सांची में अंग्रेजी शराब के अवैध परिवहन के मामले को लेकर भोपाल कलेक्टर अविनाश लावनिया ने आबकारी भोपाल के वृत क्रमांक 6 के उपनिरीक्षक चंदरसिंह काे निलंबित कर दिया है। उनके स्थान पर अब उप निरीक्षक अतुल दुबे काम देखेंगे। इसके अलावा भोपल के सहायक जिला आबकारी अधिकारी अरविंद सागर को मामले की जांच कलेक्टर लवानिया द्वारा सौंपी गई है।
सांची उपचुनाव में इस्तेमाल की भी अाशंका
इस अवैध शराब के मामले में दाे एंगल देखे जा रहे हैं। पहला ताे शराब ठेकेदार द्वारा बिना बैच की अवैध शराब मंगाकर विक्रय करना। दूसरा सांची विधानसभा उपचुनाव में इस्तेमाल के लिए इस शराब काे विदिशा में इकट्ठी करना। विदिशा से सांची विस क्षेत्र की सीमा लगी हाेने के कारण भी ऐसी आशंकाएं जताई जा रही हैं।

इससे पहले आबकारी अमले पर हो चुकी पत्थरबाजी
सांची थाने में आने वाले गुलगांव स्थित ज्ञानपुरा में 7 अक्टूबर को सुबह के समय कार्रवाई के दौरान आबकारी अमले पर पत्थर बरसाने की घटना हुई थी। इस घटना में दो आबकारी उपनिरीक्षक को चोटें आईं थी। सांची थाने में इस घटना काे लेकर चार आरोपियों की नामजद एफआईआर दर्ज की गई थी। इस घटना में एक महिला आरोपी भी गिरफ्तार की जा चुकी है। पुलिस अन्य की तलाश कर रही है।

इन पर दर्ज किया गया मामला
भोपाल के गांधीनगर से लाइसेंसी योगेंद्र सावनेर की दुकान से विदिशा में लाइसेंसी ठेकेदार मनीष जाट की दुकान पर 450 पेटी अंग्रेजी शराब लेकर यह मिनी ट्रक जा रहा था। पुलिस ने ये जानकारी पकड़े गए ट्रक चालक गांधीनगर भोपाल निवासी अहमद अली पुत्र रहमत अली और अकील खान पुत्र बहीरुद्दीन अर्जुन नगर भोपाल से हासिल की। इस आधार पर चारों पर आबकारी अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

5 मजदूर 3 घंटे में खाली कर पाए ट्रक में भरी शराब की पेटियां
अंग्रेजी शराब की पेटियों से भरा ट्रक पुलिस द्वारा पकड़े जाने के बाद उसे खाली करा पाना ही बड़ा काम था । पुलिस ने ट्रक से शराब की पेटियां उतरवाने के लिए पांच मजदूरों को काम पर लगाया, जो 3 घंटे में ट्रक खाली कर पाए।
दर्ज किया मामला
रविवार की शराब के अवैध परिवहन की सूचना मिलने के बाद सांची तिराहे पर मिनी ट्रक को रोककर जांच की गई। इसमें 50 लाख रुपए कीमत की 450 पेटी शराब मिली । परमिट पर बैच नंबर नहीं होने से शराब जब्त कर सांची थाने लाया गया । यहां पर मामला दर्ज किया गया है।
-अदिति भावसार, एसडीओपी रायसेन

बैच नंबर दर्ज नहीं था
सांची में पुलिस द्वारा जो 450 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त की गई है। इसकी जांच में आबकारी उप निरीक्षक की मदद भी ली गई । शराब परिवहन के लिए जो परमिट जारी किया गया था उसमें बैच नंबर दर्ज नहीं था।
-दीपम रायचुरा, जिला आबकारी अधिकारी

खबरें और भी हैं...