पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

6 माह से बेरोजगार घूम रहे छात्र-छात्राएं:फार्म भरकर प्रतियोगी परीक्षाओं का इंतजार, आयु सीमा निकलने का डर

रायसेन17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 6 माह से बेरोजगार घूम रहे छात्र-छात्राएं, अफसरों की अनदेखी पड़ रही भारी

रोजगार पाने के लिए परीक्षा फार्म भरने वाले सैकड़ों विद्यार्थी परीक्षा तिथि नहीं आने के कारण परेशान हो रहे हैं। धीरे-धीरे समय बीत रहा है और कई अभ्यर्थी ऐसे हैं जो ओवर ऐज की कगार पर पहुंच गए हैं। वहीं उनकी पढ़ाई भी पिछड़ रही है जिससे वह छात्र-छात्राओं में निराशा छाई हुई है, जिसके चलते मानसिक तनाव व डिप्रेशन में जा रहे हैं।

लोक सेवा आयोग ने पीएससी ने तिथि तो घोषित की है, लेकिन कोई गाइडलाइन जारी नहीं की है। परीक्षा फार्म भरने वाले अभ्यार्थी शाहबाज खान ने बताया कि परीक्षा फार्म भरने के लिए 300 से लेकर 1 हजार तक खर्च किए हैं। वहीं तकनीकी और मेडिकल की पढ़ाई करने के लिए फार्म भरने का शेड्यूल ही जारी नहीं हुआ है। आरक्षक भर्ती के लिए आवेदन करने वाले पंकज शर्मा एवं अजय लोधी ने बताया कि परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग कर रहे थे क्लास नहीं लगने के कारण पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है।

इसके अलावा कियोस्क संचालक उमेश कुमार ने बताया कि असिस्टेंट प्रोफेसर और जेआरएफ की परीक्षा के लिए साल में दो बार जून और दिसंबर में नेशनल इलिजबिलिटी नेट की परीक्षा होती है। जून 2020 में होने वाली परीक्षा नवंबर में हुई दिसंबर में होने वाली परीक्षा के फार्म नहीं भरे जा सके। दिसंबर की परीक्षा के फार्म फिर जनवरी में भरे गए, लेकिन अभी तक परीक्षा की तिथि तय नहीं है। नेट का कैलेंडर 6 माह पीछे चल रहा है।

स्नेह लता यादव ने बताया कि एमपी पीएससी एवं नेट का फॉर्म भरा था तैयारी के लिए भोपाल में कोचिंग कर रही थी। कोरोना कर्फ्यू लगते ही कोचिंग बंद हो गई अब घर आकर सेल्फ स्टडी कर रही हूं। पीएसी की संभावित डेट तो आ गई, लेकिन नेट की तिथि को लेकर अभी कोई निर्देश नहीं है। संतोष लोधी ने बताया कि आरक्षक की भर्ती का फार्म 2 साल पूर्व भरा था परीक्षा कब होगी कोई जानकारी नहीं है समय निकलता जा रहा है कोरोना कर्फ्यू के कारण पढ़ाई प्रभावित हुई है अब प्राइवेट जॉब करने के लिए विवश हूं।

अभ्यथिर्यो ने की मांग : परीक्षा फार्म भरने वाले अभ्यर्थी जो धीरे-धीरे ओवर ऐज की ओर बढ़ रहे हैं ऐसे लोगों क्रमश: उक्त सहित पंकज लोधी, फैज खान, अनामिका जैन, सुनीता लोधी, लक्ष्मी पंथी, असमा परवीन, विनोद शर्मा, राकेश जैन, सत्येंद्र गौर, दीपक अहिरवार, सुरेश गौर, महेंद्र लोधी, उमेश बंसल, जगदीश परिहार, राहुल यादव, सुमित कुमार आदि ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से शीघ्र ही पूर्व में भरे गई परीक्षाओं के फार्मों की परीक्षा तिथि संबंधित विभागों से घोषित कराने की मांग की है।

अब इन परीक्षाओं की तिथि का इंतजार
पुलिस आरक्षक परीक्षा के लिए वर्ष 2019 में फार्म भरे गए थे, परीक्षा शुल्क के 300 से 500 थी। अभी तक परीक्षा को लेकर कोई अधिसूचना जारी नहीं हुई है। शिक्षक भर्ती वर्ग 3 जनवरी 2018 में फार्म भरे गए थे आवेदन शुल्क था और 650 परीक्षा कब होगी अभी तक कोई निर्देश नहीं है ।

पोस्ट ऑफिस भर्ती में कक्षा 10 उत्तीर्ण मेरिट के आधार पर 500 फीस के साथ फार्म 2019 में भरे गए। जेईई, नीट, पीएटी के तो फार्म ही नहीं भरे गए हैं। अब कहीं जाकर जेल प्रहरी और पीएससी की तिथि घोषित हुई है। संभवत 25 जुलाई को पीएसी की पहला प्रश्न पत्र हो सकता है। कोविड संक्रमित परीक्षार्थी कमिश्नर या कलेक्टर को आरटी पीसीआर रिपोर्ट प्रस्तुत कर अपने परीक्षा केंद्र पर परीक्षा दे सकेंगे।

खबरें और भी हैं...