मास्क की कमी का हल / रोजाना 12 घंटे तक काम करके 10 दिन में 6 महिला आरक्षकों ने बना दिए 2000 मास्क और 450 ग्लब्स

महिला पुलिसकर्मी अपने हाथों से तैयार कर रही मास्क। महिला पुलिसकर्मी अपने हाथों से तैयार कर रही मास्क।
X
महिला पुलिसकर्मी अपने हाथों से तैयार कर रही मास्क।महिला पुलिसकर्मी अपने हाथों से तैयार कर रही मास्क।

  •  मास्क की कमी का हल पुलिस ने अपने ही स्तर पर निकाल लिया है
  •  महिला पुलिस कर्मचारी अपने हाथों से मास्क और ग्लब्स तैयार कर रही हैं

दैनिक भास्कर

Apr 07, 2020, 07:58 AM IST

भोपाल. रायसेन. मास्क की कमी का हल पुलिस ने अपने ही स्तर पर निकाल लिया है। पुलिस लाइन में खुद महिला पुलिस कर्मचारी अपने हाथों से मास्क और ग्लब्स तैयार कर रही हैं। इसके लिए उन्होंने 28 मार्च से काम शुरू कर मात्र 10 दिनों में 2000 से अधिक कपड़े के मास्क और 450 से अधिक ग्लब्स तैयार कर लिए हैं। 


इस काम में छह महिला पुलिस कर्मचारी लगी हुई है। जो रोज ही पुलिस लाइन में 10 से 12 घंटे तक रोज काम कर रही हैं। पुलिस लाइन के टेलर रामनारायण के साथ तृप्ति नामदेव, पिंकी पाल, सुषमा, श्वेता मिश्रा, राजश्री राय, आरती बछानिया, चंचल चौहान, शीतल मेहर, नेहा पटेल ये जिम्मेदारी निभा रही हैं। 
जगह-जगह जाकर बांटे जा रहे मास्क: एसपी मोनिका शुक्ला ने बताया कि पुलिस लाइन मेें 6 महिला पुलिस कर्मचारियों द्वारा मास्क बनाने का काम किया जा रहा है। इससे पुलिस कर्मचारियों को मास्क मिल जाएं।

पुलिस कर्मचारियों को इसलिए मास्क जरूरी 
शहर सहित जिलेभर में इन दिनों पुलिस कर्मचारी और अधिकारी टोटल लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंस का पालन कराने के लिए प्रशासन के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। वे शहर के अंदर, बाहर और जिले की सीमाओं पर तैनात हैं। इस दौरान उनके संपर्क कई लोग आते हैं। इससे कोरोना संक्रमण का खतरा बना रहता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना