पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

माशिमं, रिजल्ट देखने देर शाम तक भटके छात्र:दसवीं का परिणाम घोषित, पोर्टल में गड़बड़ी से देखने में आई दिक्कत

राजगढ़14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बुधवार शाम 4 बजे कक्षा दसवीं का रिजल्ट घोषित कर दिया लेकिन पोर्टल की परेशानी के चलते रिजल्ट देखने में परेशानी आई है। इसी के चलते जिलेभर के कुल आंकड़े भी नहीं मिल सके है। जिले में इस साल नियमित छात्र 19 हजार 637 थे और प्राइवेट छात्र 1234 थे। यह सभी छात्र पास हुए है, इसमें से किसी को पूरक नहीं आई है।

माशिमं द्वारा घोषित परिणाम में इस बार काेरोना संक्रमण के चलते कोई भी छात्र फेल नहीं हुआ है और ना ही किसी को पूरक आई है। सभी छात्र पास हुए है। यह रिजल्ट वेस्ट ऑफ फाइव सिस्टम के आधार पर तैयार किया है जिसमें छह में से पांच विषयों को आधार बनाकर छात्रों को पास किया है। बता दें कि यह सिस्टम साल 2018 में लागू किया था। इसके बाद पिछले तीन शिक्षण सत्र से रिजल्ट 60 से 70 फीसदी रहा है।

कठिन विषय काे हटाकर बेस्ट ऑफ 5 से बना रिजल्ट
बेस्ट ऑफ फाइव सिस्टम के तहत छठवें कठिन विषय को हटाकर तैयार किया है। जीरापुर के भानपुरा की आस्था दांगी को 500 में से 500 नंबर मिले है। हालांकि जिले के कुल रिजल्ट के आंकड़े देर शाम तक पोर्टल पर नहीं डाले गए, इसके चलते चार वर्ग में तैयार रिजल्ट नहीं मिल सका। पोर्टल की परेशानी के चलते छात्र भी देर शाम तक परीक्षा परिणाम देखने परेशान होते रहे।

दाे बार मंडल से बात की
डीईओ बीएस बिसारिया ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा मंडल ने दसवीं का रिजल्ट घोषित किया, लेकिन जिले का टोटल रिजल्ट का आंकड़ा नहीं खुल सका। इसके लिए दो बार मंडल में भी बात की लेकिन यह समस्या अकेले राजगढ़ में नहीं अन्य जिले में भी आई है। विभाग में भी स्टाफ परेशान रहा।

खबरें और भी हैं...