पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Rajgarh
  • He Was Referring To The Child Without Seeing It As Serious, Later It Was Found Out That Another Woman Has A Case History.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिला अस्पताल के हाल:बिना देखे ही प्रसूता को गंभीर बताकर रेफर कर रहे थे बाद में पता चला दूसरी महिला की है केस हिस्ट्री

राजगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रसव के लिए आई प्रसूता को बिना जांचे ही बता दी बीपी की समस्या

जिला अस्पताल कभी मरीजाें के इलाज में लापरवाही तो कभी बिना बात के प्रसूताओं को रेफर करने के लिए बदनाम हो चुका है। ऐसे में आए दिन मरीज के परिजन और स्वास्थ्य अमले के बीच विवाद की स्थिति भी बनती है। बुधवार देर रात भी ऐसी ही स्थिति बनी जब प्रसव के लिए पहुंची एक प्रसूता को बिना देखे ही उसकी केस हिस्ट्री में हाई बीपी लिखकर उसे रेफर करने का कह दिया। काफी देर तक प्रसूता के परिजनों ने वार्ड की इंचार्ज नर्स से बहस की तब उसका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। इसे बाद पता चला कि यह केस हिस्ट्री तो प्रसूति वार्ड में भर्ती दूसरी महिला की थी जिसे हाई बीपी की शिकायत थी। करीब 2 घंटे तक चले इस विवाद के बाद मेटरनिटी इंचार्ज डॉ आकांक्षा वहां पहुंची। तब गर्भवती महिला का इलाज शुरु हो सका। बुधवार रात करीब साढ़े 10 बजे गांव बरगोलिया निवासी हुकमचंद सिंगला अपनी बहू को प्रसव पीड़ा को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे थे। दर्द से कराह रही महिला को भर्ती करवाने के लिए उन्होंने ओपीडी से पर्चा कटवाकर भर्ती करवाया। मरीज संगीता को देखने के लिए ड्यूटी डॉक्टर ने आया को भेजा। इसी बीच एक अन्य नर्स ने आकर संगीत की फाइल तैयार की और केस हिस्ट्री में उसे हाई बीपी बताकर उसे जटिल प्रसव बताया। हाई रिस्क डिलेवरी बताकर स्टाफ ने परिजनों के हस्ताक्षर भी करवा लिए। परिजनों ने समझाने की कोशिश पर किसी ने उनकी बात नहीं मानी।

9.30 बजे तक ओपीडी में डॉक्टर की कुर्सी खाली
गुरुवार को सुबह 9.30 बजे जब भास्कर रिपाेर्टर ने जिला अस्पताल पहुंचकर हाल जाने ताे चौकाने वाली स्थिति थी। यहां सुबह 9.30 बजे तक ओपीडी में एक भी डॉक्टर नहीं थे। अस्पताल के मेटरनिटी वार्ड में साफ-सफाई भी नहीं हुई थी। यहां भर्ती प्रसूताओं को नाश्ता वितरित किया गया तो कर्मचारियों ने न तो मास्क लगाया और न ही हाथ में ग्लब्ज पहने थे। साढ़े 9 बजे भी सिर्फ इमरजेंसी ड्यूटी कर रही महिला डॉक्टर ही उपस्थित थी। ओपीडी कक्ष, इजेक्शन रूम, ड्रेसिंग रूम सहित सभी डाक्टर के चेंबर खाली थे।

लापरवाही ऐसी... ड्यूटी डाॅक्टर ओपीडी से गायब, नर्स ड्यूटी के समय में बाहर स्कूटी सीख रही थींं
जिला अस्पताल के ओपीडी में साढ़े 9 बजे तक 8 डाॅक्टर ओपीडी से गायब थे, वहीं नौ लोगों का स्टाफ भी वहां मौजूद नहीं था। बाहर एंबुलेंस खड़ी थी, लेकिन चालक नहीं था। इसके साथ ही सरदार बल्लभ भाई दवा वितरण केंद्र पर भी एक महिला कर्मचारी ही नजर आई। अधिकांश वार्ड के कर्मचारी बाहर घूमते दिखाई दिए, वहीं चाइल्ड वार्ड की एक स्टाफ नर्स चाइल्ड वार्ड, प्राइवेट वार्ड्र, सीएस कार्यालय से लेकर स्टोर के बीच स्कूटी सीखते हुए देखी गई। जिसे एक युवक स्कूटी सीखा रहा था। जब स्टॉफ के लोगों ने नर्स को टोका तो उसने जवाब दिया कि मै ड्यूटी समय पर कुछ भी करूं अपकों क्या करना। जबकि उसी समय वार्ड में डाक्टर राउंड ले रहे थे।

परिजन बोले- चेकअप किया नहीं, हाई बीपी बता दिया
स्टाफ से बार-बार संगीता ने भी कहा कि उसका चैकअप हुआ ही नहीं है तो बीपी हाई बीपी कैसे लिख दिया। इसके बाद कहीं जाकर स्वास्थ्य अमले को अपनी गलती समझ में आई। पता चला कि अस्पताल में भर्ती एक अन्य प्रसूता की केस हिस्ट्री संगीता की फाईल में लिखकर उसे हाईरिस्क बताने की तैयारी स्टाफ ने कर ली थी। गुस्साए परिजनों ने मेटरनिटी इंचार्ज डॉ आकांक्षा से शिकायत भी की। ऐसी लापरवाही से प्रसूताओं की जान पर बन आती है।

नाेटिस देकर मांगेंगे जवाब
^मामला मेरी जानकारी में आया है संबंधित को नोटिस देकर जवाब मांगा जाएगा, इसके बाद कार्रवाई की जाएगी।
-डॉ आरएस परिहार, सिविल सर्जन राजगढ़।

लैब में इमरजेंसी जांच भी बंद
जिला अस्पताल में इमरजेंसी सेवा के लिए 24 घंटे लैब की सुविधा दी है। लेकिन यहां लैब में कोई तैनात नहीं रहता है। लैब का स्टाफ ब्लड बैंक में आकर सौ जाता है, इसके चलते रात के समय आने वाले मरीज के परिजन परेशान होते रहते है। रात एक बजे श्री दांगी जब अपनी बहू की जांच के लिए पहुंचे तो वहां कोई कर्मचारी नहीं मिला। करीब 15 मिनट की तलाशी के बाद वह लैब में सोता मिला तो जांच रिपोर्ट सुबह लेने का बोला। जब परिजन बोले की सुबह ही जांच करानी थी तो आधी रात को लेकर क्यो आते तो टेक्नीशियन ने कहा कि आप बाहर जाकर बैठ जाईए जब जांच होगी तब बता देंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें