पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नोटिफिकेशन जारी:इनकम टैक्स और जीएसटी रिटर्न की तारीख बढ़ाई

राजगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • करदाताओं काे फायदा, 15 दिन की राहत, फाइल के लिए 30 दिन का मिला समय

वित्त मंत्रालय ने इनकम टैक्स रिटर्न की आखिरी तारीख बढ़ाने के साथ ही जीएसटी रिटर्न की भी आखिरी तारीख बढ़ाने का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। ऐसे करदाता जिनका टर्नओवर 5 करोड़ रुपए या अधिक है, उन्हें मार्च एवं अप्रैल के 3 बी रिटर्न भरने में 15 दिन की राहत दी है। वहीं 5 करोड़ से कम टर्नओवर वाले करदाताओं को मार्च एवं अप्रैल के 3 बी रिटर्न फाइल करने के लिए 30 दिन का समय दिया है।

दरअसल कर दाताओं द्वारा कोरोना के कारण लॉकडाउन होने से जीएसटी रिटर्न की आखिरी तारीख बढ़ाने की मांग की जा रही थी। इस पर वित्त मंत्रालय ने अब जाकर आखिरी तारीख बढ़ाने का नोटिफिकेशन जारी किया है। उधर, थोक व बड़े व्यापारियों का कहना है कि सरकार ने रिटर्न की आखिरी तारीख तो बढ़ा दी है, लेकिन लॉकडाउन लगा है।

अभी लॉकडाउन खुलेगा या आगे बढ़ेगा, इसको लेकर घोषणा नहीं की है। कई व्यापारी संक्रमित भी हो चुके हैं। वहीं सीए ऑफिस बंद है व अकाउंटेंट नहीं आ रहे हैं। ऐसे में यदि आखिरी तारीख नहीं बढ़ी तो लेट फीस चुकाना होगी। कर दाताओं की मांग है कि जब तक लॉकडाउन रहे, उसके एक महीने बाद की आखिरी तारीख रखी जाए ताकि रिटर्न भरने में दिक्कत न हो।
जो होना चाहिए था, वह नहीं हुआ

जीएसटीआर-1 की मार्च की अंतिम तारीख नहीं बढ़ाई गई है। इस कारण से इनपुट क्रेडिट का मिसमैच होने से चालान भरना पड़ेगा।

करदाताओं को देरी करने पर देना होगा ऐसे ब्याज
वरिष्ठ कर सलाहकार व सीए अरुण सेठानी ने बताया 5 करोड़ रुपए से अधिक टर्नओवर वाले करदाताओं को देरी के पहले 15 दिन के लिए 9 फीसदी एवं इसके बाद 18 फीसदी ब्याज देना होगा। वहीं 5 करोड़ से कम टर्नओवर होने पर देरी के प्रथम 15 दिन ब्याज नहीं देना होगा एवं उसके पश्चात अगले 15 दिन 9 प्रतिशत ब्याज देना होगा तत्पश्चात 18 प्रतिशत ब्याज देना होगा।

ऐसे समझें ये राहत
5 करोड़ रुपए से अधिक टर्नओवर वाले करदाता को मार्च का 3 बी रिटर्न 20 अप्रैल तक करना था। वित्त मंत्रालय द्वारा जारी नोटिफिकेशन के अनुसार ऐसे डीलर को 15 दिन की राहत दी गई है यानी 5 मई तक मार्च का रिटर्न फाइल बिना लेट फीस किया जा सकता है लेकिन दिक्कत यह है कि शहर में फिलहाल 16 मई तक लॉकडाउन लगा हुआ है। इससे ज्यादा समय देना चाहिए था।

खबरें और भी हैं...