भगवान महावीर के निर्वाणोत्सव पर जिनालयों में चढ़ाए लाड़ू‎:दीपावली पर महालक्ष्मी, पड़वा पर की‎ गोवर्धन पूजा , आज मनेगी भाई दूज‎

राजगढ़‎25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिलेभर में गुरुवार को दीपावली‎ का पर्व उत्साह के साथ मनाया‎ गया। इस मौके पर लोगों ने घरों की‎ साफ-सफाई व सजावट के बाद‎ शाम के समय शुभ मुहूर्त में लक्ष्मी‎ पूजन की।

साथ ही मिठाई बांट कर‎ खुशियां मनाईं। इस मौके पर‎ जमकर आतिशबाजी भी की गई।‎ वहीं भगवान महावीर निर्वाणोत्सव‎ पर शहर स्थित जिनालय सहित‎ अन्य स्थानों पर दीपमाला पूजन‎ कर दिवाली मनाई गई। वहीं‎ शुक्रवार को जिलेभर में पड़वा की‎ धूम रही है। पांच दिवसीय दीपोत्सव पर‎ पड़वा काे गोवर्धन पूजन किया‎ गया। सुबह भैरव पूजन के बाद ‎ गोवर्धन पूजन किया गया।

इस‎ दौरान विशेषकर गांवों में‎ पशुपालकों ने भैंस व अन्य मवेशी‎ को नहलाकर उनका श्रृंगार कर‎ पूजन की। इस दौरान ग्रामीणों ने‎ हीड़ गीत गाए, वहीं महिलाओं ने‎ मंगल गीत गाकर सामूहिक समारोह‎ भी निकाला।वहीं शाम के समय‎ बैल पूजन की गई। जबकि एक‎ दिन पहले अमावस्या को गाय‎ पूजन किया गया था।‎

जिनालय में चढ़ाए निर्वाण लाड़ू जैन‎ समाज ने भगवान महावीर स्वामी‎ के निर्वाणोत्सव व गौतम गणधर के‎ कैवल्य ज्ञान उत्सव को दीपावली‎ के रूप में मनाया। सुबह से ही‎ मंदिरों की सजावट कर विशेष‎ पूजन-अर्चना की गई। इसके बाद‎ दीपमाला पूजन के साथ ही भगवान‎ महावीर स्वामी और गौतम गणधर‎ भगवान की पूजन की गई।‎

बांधे जाएंगे रक्षा सूत्र‎‎
दीपोत्सव के अंतिम दिन शनिवार‎ को भाईदूज का आयोजन किया‎ जाएगा। इस दौरान बहनों के घर‎ भाई उपहार लेकर भोजन करने‎ पहुंचेंगे। जहां बहन भाई को भोजन‎ कराने के साथ ही भाई सुरक्षा के‎ लिए रक्षा सूत्र बांधकर तिलक‎ करेगी।‎

खबरें और भी हैं...