पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कल से राहत:शाम 4 बजे तक खुलेगा बाजार, शनिवार शाम 4 से साेमवार सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू

राजगढ़19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना कर्फ्यू में सुनसान पड़े बस स्टैंड पर अब यात्री वाहनों की आवाजाही हो सकेगी। - Dainik Bhaskar
कोरोना कर्फ्यू में सुनसान पड़े बस स्टैंड पर अब यात्री वाहनों की आवाजाही हो सकेगी।
  • आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में जिले में कोरोना कर्फ्यू में ढील देने का निर्णय
  • यात्री वाहन चलेंगे, चार पहिया वाहन में चालक सहित दो अन्य लोग यात्रा कर सकेंगे

काेराेना संक्रमण की दर कम हाेने से जिले में एक जून से कोरोना कर्फ्यू से राहत मिलने वाली है। इस दौरान सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक बाजार खुला रहेगा। वहीं शनिवार शाम 4 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लागू रहेगा।

9 अप्रैल से जिले में कोरोना कर्फ्यू लागू है। इसके चलते अभी दूध डेयरी व दवाइयाें की दुकानाें को छोड़कर सभी प्रतिष्ठान बंद हैं। इसके साथ ही यात्री बसाें व व्यवसायिक वाहनाें का संचालन भी बंद है। इसके चलते यातायात भी थमा है। अब एक जून से कुछ राहत मिलने वाली है। इसके लिए रविवार को आपदा प्रबंधन समूह की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में जिले में कोरोना कर्फ्यू में ढील देने के लिए चर्चा की गई। बैठक में निर्णय लिया गया कि अब यात्री वाहन चलेंगे। चार पहिया वाहन में चालक सहित दो अन्य लोग बैठकर यात्रा कर सकेंगे। इसके साथ ही किराना, सब्जी, आटा चक्की सहित अन्य जरूरी सेवाओं के प्रतिष्ठान शाम 4 बजे तक खुल सकेंगे। इस मौके पर कलेक्टर नीरज कुमार सिंह, एसपी प्रदीप शर्मा, सांसद रोड़मल नागर, विधायक बापूसिंह तंवर, प्रियव्रतसिंह, रामचंद्र दांगी, राज्यवर्धनसिंह सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

बैठक में यह भी लिया निर्णय

बैठक में राज्य सरकार की गाइड लाइन का पालन कराने के साथ ही जिला स्तर पर भी कुछ निर्णय लिया है। सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक दुकाने खुली रहेगी, लेकिन मेडिकल, दूध डेयरी सहित अन्य प्रतिष्ठान जो आवश्यक सेवाओं में आते है उन्हें 10 बजे तक की छूट रहेगी। इसके साथ ही शनिवार शाम 4 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा। वहीं डूडा के परियाेजना अधिकारी से कहा कि वह सभी सीएमओ से कहकर दुकानों के सामने साेशल डिस्टेंस से खड़े हाेने के लिए गोले बनवाएं। वहीं ऑनलाइन क्लासेस भी चल सकेगी।

सब्जी व फुटकर दुकानाें के लिए चयनित होंगे स्थान

बैठक में निर्णय लिया कि हर शहर में सब्जी बाजार, फल बाजार व फुटकर दुकानों के लिए स्थान चिन्हित किए जाएंगे। इसके लिए जिले के 4 नगर पालिका और 10 नगर परिषद के साथ ही कस्बे में लगने वाली दुकानाें के लिए संबंधित एसडीएम जगह चिन्हित करेंगे ताकि बाजार खुलने के साथ ही भीड़ नहीं लगे। बैठक में निर्णय लिया कि दुकानों के लिए चिंहित स्थान पर दूर-दूर रहेंगे, इससे संक्रमण का डर नहीं रहे।

हाट बाजार पर राेक, पशु बाजार भी नहीं लगेगा

14 निकाय के साथ ही 10 कस्बों में साप्ताहिक हाट बाजार लगता है लेकिन यह हाट बाजार फिलहाल पूरी तरह से बंद रहेंगे। पशुओ के लिए लगने वाले बाजार भी बंद रहेंगे। कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने बताया कि इसके लिए अभी समय-सीमा तय नहीं की है मगर हाट-पशु बाजार अभी नहीं खुलेंगे।

दुकानदाराें के लिए वैक्सीनेशन अनिवार्य

किराना दुकानों के साथ ही कृषि उपकरण, खाद बीज, सहित अन्य प्रतिष्ठान सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक खुले रहेंगे। एक समय पर छह से अधिक लोग इन प्रतिष्ठान पर एकत्रित नहीं रहेंगे। दुकानदार व ग्राहक को मास्क का उपयोग करना होगा। दुकानदार व कर्मचारी को वैक्सीन अनिवार्य है, नहीं तो कोरोना टेस्ट कराना होगा।

इन सेवाओं पर रहेगा प्रतिबंध

जिले में शॉपिंग काॅम्पलेक्स, स्वीमिंग पुल, टॉकीज, होटल, रेस्टोरेंट सहित अन्य प्रतिष्ठान जहां 6 से अधिक लाेगाें के एकत्रित हाेने की संभावना है, वह बंद रहेंगे।

मृत्यभाेज, विवाह, सामूहिक कार्यक्रमों की अनुमति जरूरी

मृत्युभोज, धार्मिक सभा, राजनैतिक सभा और सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ ही अन्य आयोजन भी प्रतिबंधित रहेंगे। वहीं शादी में 20 लोग शामिल हों सकेंगे, जिसकी सूची प्रशासन को अनुमति के दौरान देनी होगी।

यात्री न मिलने से बंद थी बसें

अप्रैल में संक्रमण फैलने के बाद लोगों ने बाहर आने-जाने के प्रोग्राम टाल दिए थे। जरूरी होने पर निजी वाहनों से यात्रा की। जिसके चलते बसों को ट्रैफिक नहीं मिलने पर बस ऑपरेटरों ने संचालन पूरी तरह रोक दिया। जिले से होकर करीब ढा़ई सौ बसें अपडाउन करती है, लेकिन यह सभी बंद हैं। ऐसे में आंतरिक मार्ग के साथ ही इंदौर, भोपाल, कोटा सहित अन्य शहरों में जाने वाले यात्री वाहन भी बंद पड़े थे। अब लंबे रूट की बसों के साथ ही आंतरिक मार्ग की बसों का संचालन भी हाेगा। इससे परिवहन में आ रही लोगों की परेशानी दूर होगी।

खबरें और भी हैं...