कलेक्टर के आने से पहले तैयारी में लगे रहे:प्रसूता काे नहीं किया भर्ती, अस्पताल परिसर में प्रसव

सारंगपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिविल अस्पताल में कर्मचारियों की लापरवाही के कारण एक गर्भवती ने अस्पताल के परिसर की पार्किंग के पास ही शिशु को जन्म दे दिया। इस दैारान साथ आईं एवं अस्पताल में मौजूद अन्य महिलाओं ने प्रसूता की मदद की। तब कहीं जाकर स्टाफ को सुध आई और प्रसूता अकार शिशु को अस्पताल में भर्ती किया। सोमवार को ग्राम उकावता निवासी एक गर्भवती महिला काे प्रसव के लिए जननी एक्सप्रेस से सिविल अस्पताल लाया गया था।

महिला दर्द से परेशान थी उसके साथ आए परिजन अस्पताल के स्टाफ से उसको तुरंत भर्ती करने की मिन्नतें कर रहे थे। इसके बावजूद काफी देर तक उनकी बात नहीं सुनी गई और कोई भी कर्मचारी प्रसूता को अटेंड करने नहीं आया। आखिरकार अस्पताल के प्रांगण में ही प्रसूति हो गई।

वह कराहती रही, स्टाफ लगा रहा साफ-सफाई में
अस्पताल में एक ओर तो उक्त महिला दर्द से कराहती रही, वहीं दूसरी और स्टाफ के लोग कलेक्टर के आगमन की सूचना पर अस्पताल की साफ सफाई में लगे हुए थे। कलेक्टर की नजरों में नंबर पाने के चक्कर में वे प्रसूता की ओर देखना भी उचित नहीं समझ रहे थे।

कलेक्टर ने दिए मामले की जांच के निर्देश
इस घटना के कुछ देर बाद ही कलेक्टर नीरजकुमार सिंह अस्पताल के कोविद सेंटर के निरीक्षण के लिए पहुंच गए और उन्हें इस सारी घटना की जानकारी लगी तो उन्होंने सारे मामले की जांच कराने के निर्देश दिए।

खबरें और भी हैं...