पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चिंता:नेवज का छोटा पुल खस्ताहाल, डामर उखड़ा

राजगढ़6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जर्जर हालत में लोगों की परेशानियां बढ़ा रहा नेवज नदी का छोटा पुल। - Dainik Bhaskar
जर्जर हालत में लोगों की परेशानियां बढ़ा रहा नेवज नदी का छोटा पुल।
  • मानसून आने काे है, इस बार फिर हाेगी आवागमन मेेंं दिक्कत

कालीपीठ-पिपलोदी क्षेत्र के करीब 50 से अधिक गांवों को जिला मुख्यालय से जाेड़ने बनाने वाले राजगढ़- कालीपीठ मार्ग पर नेवज नदी के छोटे पुल पर बाढ़ का पानी पुराने बस स्टैंड तक आकर ठहरता है। ऐसे में न केवल हर साल पुल क्षतिग्रस्त होता रहा है, बल्कि इस मार्ग के पुराने बस स्टैंड तक के हिस्से का डामर भी उखड़ रहा है। मार्ग को दुरुस्त कराने की दिशा में भी लोक निर्माण विभाग ने यहां फिलहाल कोई कार्य नहीं किया है। बारिश से सिर पर है। ऐसे में बाढ़ के दौरान फिर से आवागमन प्रभावित हो सकता है। पुल पर आवागमन को सुरक्षित बनाने के लिए लोक निर्माण विभाग ने पहले यहां व्हील गार्ड बनाने व मरम्मत कराने की बात कही थी, लेकिन इस प्रकार की कोई कार्रवाई यहां देखने को नहीं मिली है। न सिर्फ पुल, बल्कि पुराने बस स्टैंड तक की क्षतिग्रस्त सड़क को भी मरम्मत की दरकार है। इस प्रमुख मार्ग से रोजाना छोटे-बड़े वाहनों की आवाजाही होती है।

बांध से छाेड़ा पानी छाेटे पुल के ऊपर से बहता है
बारिश के पहले मोहनपुरा बांध से बड़ी मात्रा में पानी छोड़कर बांध का जल स्तर सामान्य रखा जाता है। ऐसे में हर साल नेवज नदी के छोटे पुल के ऊपर पानी बहने लगता है। इस मार्ग का एक बड़ा हिस्सा इस वजह से क्षतिग्रस्त भी होता रहा है। पिछले माह मोहनपुरा

वृहद सिंचाई परियोजना, सेतु निगम व लोक निर्माण विभाग के बीच पत्राचार के बाद पुल को नया बनाने की कागजी प्रक्रिया जारी है। मोहनपुरा परियोजना कार्यालय द्वारा पुल बनाने के लिए जरूरी धनराशि उपलब्ध कराने की सहमति भी पिछले माह में ही मिल चुकी थी।

खबरें और भी हैं...