पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ईद-उल-अजहा जिले में सद्भाव से मनाया त्याेहार:कोरोना गाइड लाइन के हिसाब से मस्जिदों में नमाज अदा की, अमन की मांगी दुआएं, एक दूसरे को दी मुबारकबाद

राजगढ़3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ईदगाह में सिर्फ 6 लोगों ने अता की नमाज। - Dainik Bhaskar
ईदगाह में सिर्फ 6 लोगों ने अता की नमाज।

जिले में बुधवार को मुस्लिम समाज के लाेगाें ने ईद-उल-अजहा पर्व पारंपरिक तरीके से मनाया। मस्जिदों में काेरोना गाइड लाइन के अनुसार सीमित संख्या में मुस्लिम समाज के लाेगाें ने ईद की मुख्य नमाज अदा की। इसके बाद एक-दूसरे को मुबारकबाद दी गई। त्योहार को लेकर नगरीय निकायों व पुलिस प्रशासन सहित समाजजनों ने पूर्व तैयारियां की थी।

जीरापुर में सुबह मुस्लिम समाजजनों ने ईदगाह, मस्जिदों व अपने घरों पर रहकर ईद की नमाज़ अदा कर अमन चैन की दुआएं मांगी। नन्हे बच्चों में उत्साह रहा। एक दिन पहले मंगलवार देर शाम को पुलिस थाना परिसर में तहसीलदार अरविंद दिवाकर, थाना प्रभारी प्रकाश पटेल, नप सीएमओ देवनारायण दांगी की मौजूदगी में शांति समिति की बैठक हुई।

पुलिस-पंचायत और समाज के लोगों ने की थी तैयारियां
जामा मस्जिद में कोराेना गाइडलाइन का पालन करते हुए नमाज अदा की गई। एक-दूसरे को बधाई दी। यहां पुलिस व नगर पंचायत व समाजजनों ने पूर्व तैयारियां की थी। सुबह से समाजजन त्योहार को लेकर उत्साही नजर आए।

ईदगाह पर 6 लोगों ने पढ़ी नमाज, मना बकरीद का पर्व
ईद-अल-अजहा यानी बकरीद का त्योहार बुधवार को हर्षोल्लास के साथ मना। इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक रमजान के दो महीने बाद कुर्बानी का त्योहार बकरीद आता है। इस मौके पर ईदगाह और प्रमुख मस्जिदों में ईद-उल-अजहा की विशेष नमाज सुबह 6 बजे से लेकर 10.30 बजे तक अदा की गई। बीते साल कोरोना संक्रमण की भयावहता की वजह से लोगों को घर से ही नमाज अदा करनी पड़ी थी, इस बार शासन की कोविड 19 की गाइड लाइन के अनुसार ईदगाह मस्जिद पर 6 लोगों द्वारा नमाज अदा की गई।

नमाज शाही नायब पेश इमाम जनाब कारी मिसबाहुद्दीन ने अदा कराई। इस मौके पर अंजुमन कमेटी सेक्रेटरी निजाम कुरेशी, कोषाध्यक्ष शेख बहादुर, पूर्व नायब सदर अब्दुल रहमान, मिस्त्री अजीज, असद कुरैशी आदि मौजूद थे। सदर अलीम बाबा ने बताया की रमजान की ईद के 70 दिनों बाद बकरीद मनाई जाती है, बकरीद को ईद-अल-अजहा या फिर ईद-उल-जुहा भी कहा जाता है।

सद्भाव के साथ मनाई ईद
ईद की विशेष नमाज जामा मस्जिद में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करते हुए सीमित संख्या में पढ़ी गई। अन्य लोगों ने घरों में ही नमाज अदा की। सार्वजनिक आयोजन नहीं हुए। इस दौरान अनीश कुरेशी, जहीर उल हसन लोदी, रउफ कुरेशी, इस्माइल खान, फिरोज लोदी, सत्तार खान, आदिल खान आदि मौजूद थे।

कोरोना के खात्मे की दुआएं
ईद पर ईदगाह सहित 5 मस्जिदों पर सीमित संख्या में लोगों ने मुख्य नमाज अदा कर रहमत की बारिश होने व कोरोना के खात्मे की दुआएं मांगी। ईदगाह पर शाही जामा मस्जिद के नायब इमाम मौलाना हाफिज खलील, शाही जामा मस्जिद में इमाम मौलाना शमशुल हसन, मदरसे वाली मस्जिद में हाफिज मोहम्मद साकिर, मंसूरी मोहल्ला स्थित नूरानी मस्जिद में मौलाना इरफान, कॉलोनी स्थित मोहम्मदी मस्जिद में मौलाना मोहम्मद जमील, आवास कॉलोनी स्थित मस्जिद ए अबू बकर सिद्दीकी में मौलाना हारून ने नमाज अदा कराई। मऊ, मगराना व चतरुखेड़ी में भी नमाज अदा की गई।

खबरें और भी हैं...