पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सौंपा ज्ञापन:लंबित महंगाई राहत और एक्सग्रेशिया की पेंशनर्स ने उठाई मांग

राजगढ़22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ज्ञापन देते हुए पेंशनर्स। - Dainik Bhaskar
ज्ञापन देते हुए पेंशनर्स।

पेंशनर्स एसोसिएशन ने अपनी लंबित मांगों के संबंध में एक ज्ञापन प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान के नाम का तहसीलदार सौरभ वर्मा को दिया। शाखा अध्यक्ष लक्ष्मीनारायण त्रिकार और सचिव नंदकिशोर सोनी ने बताया कि 1 जुलाई 19 से लंबित महंगाई राहत एवं शासकीय कर्मचारियों की तरह पेंशनर की भी मृत्यु उपरांत उपादान (एक्सग्रेशिया) का 50 हजार रुपए प्रदान किया जाए। सातवें वेतनमान 1 जनवरी 16 से 31 मार्च 18 तक 27 माह एवं छठे वेतनमान का 32 माह का एरियर भुगतान किया जाए।

ज्ञापन में कहा गया कि मध्य प्रदेश/ छत्तीसगढ़ पुनर्गठन अधिनियम 2000 की धारा 49 विलोपित हो, नई पेंशन योजना बंद कर पुरानी लागू हो, वर्तमान आयु 80 वर्ष कम कर 70 वर्ष आयु पर 20% पेंशन वृद्धि एवं एक हजार चिकित्सा भत्ता, प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना के अंतर्गत प्रदेश कर्मचारी/पेंशनर को भी शामिल करने एवं अन्य मांगे शामिल रहीं।

एक और पृथक से ज्ञापन स्वास्थ्य बीमा योजना किस्त की राशि काटे जाने का विरोध स्वरूप भी मध्यप्रदेश शासन को प्रेषित किया है। इस दौरान शाखा के वरिष्ठ प्रेम शंकर पांडे, अर्जुन सिंह चौहान, कन्हैया लाल वर्मा, सिंधु लौंडे, मनोहर लाल राठौर सोबरन सिंह कुशवाहा, एआर पाटीदार, प्रेम नारायण राठौड़, लक्ष्मी चंद यादव, लक्ष्मीकांत सक्सेना, आशा बागडे, राम प्रसाद मालवीय, महेश बाबू श्रीवास्तव आदि मौजूद थे। पेंशनर्स ने बताया कि शासन हमारी जायज मांगों के प्रति संवेदनशील नहीं है, जिसके कारण प्रदेश के पेंशनर्स में असंतोष व्याप्त है।

खबरें और भी हैं...