पौधरोपण:एनएच पर डिवाइडर के बीच दिखावे का पौधरोपण, सुरक्षा-सिंचाई के इंतजाम नहीं

राजगढ़9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नेशनल हाइवे पर डिवाइडर के बीच पौधे रोपे गए थे लेकिन इनका संरक्षण नहीं किया।

शहर के बीच से गुजरे जयपुर-जबलपुर नेशनल हाईवे पर बने डिवाइडर के बीच में किया गया पौधरोपण दिखावा साबित हो रहा है। 4 साल पहले यहां पौधरोपण किया जाना था, जो काफी देरी से किया गया। पौधरोपण के दौरान डिवाइडर में जहां काली मिट्टी की जगह मुरम डाल दी गई। वहीं अब इनकी सिंचाई पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

सिंचाई के अभाव में पौधे विकसित नहीं हो पा रहे हैं। कई पौधे सूख चुके हैं, तो कुछ पौधों को मवेशी खाकर नष्ट कर चुके हैं। इनकी देखरेख का जिम्मा कोई भी अपने ऊपर लेता नजर नहीं आ रहा है। गर्मी आते ही पौधों की सुरक्षा व अस्तित्व पर संकट मंडराने लगा है।

4 साल पहले ब्यावरा से राजस्थान की सीमा तक हाईवे का निर्माण किया गया था। शहरी आबादी क्षेत्र में डिवाइडर में पौधरोपण कर हाईवे की सुंदरता बढ़ाने की कार्ययोजना पर कार्य किया जाना था। यह कार्ययोजना अब महज औपचारिक साबित होती दिखाई दे रही है।
हाइवे के निर्माण के दौरान बड़ी संख्या में काटे थे पेड़
नेशनल हाईवे के निर्माण के दौरान रास्ते में आने वाले कई पेड़-पौधे को काट दिया गया था। इसमें उतनी संख्या से अधिक पेड़ पौधों का पौधों का रोपण करना था पर ऐसा नहीं हो पायाै। जो पौधे रोपे गए थे, अब उनका अस्तित्व भी संकट में आ गया है। पौधों की सुरक्षा के लिए जालियां भी नहीं लगाई गई है।

खबरें और भी हैं...