• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Rajgarh
  • Service Road To Prevent Accidents On The Highway In The City, 250 Meters Four Lane Will Be Made, Five Works Will Be Done

हाइवे पर हाेगी सुरक्षा:शहर में हाइवे पर हादसे राेकने सर्विस राेड, 250 मीटर फोरलेन बनेगी, होंगे पांच काम

राजगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के आबादी क्षेत्र के नेशनल हाईवे पर अभी खतरा बना रहता है। - Dainik Bhaskar
शहर के आबादी क्षेत्र के नेशनल हाईवे पर अभी खतरा बना रहता है।
  • सड़क विकास प्राधिकरण ने प्रस्ताव केंद्र को भेजा

शहर के आबादी वाले क्षेत्र से गुजरे नेशनल हाईवे पर हादसे राेकने के लिए 5 महत्वपर्ण कार्य कराए जाएंगे। मप्र सड़क विकास प्राधिकरण यानी एमपीआरडीसी ने शहरी क्षेत्र में नेशनल हाईवे पर ये कार्य कराने साढ़े 3 करोड़ रुपए की स्वीकृति के लिए केंद्रीय सड़क परिवहन विभाग को प्रस्ताव भेजा है। प्राधिकरण ने परिवहन विभाग को वह 4 अहम कारण भी गिनाए हैं, जिनमें यह बताया गया है कि यह सभी काम शहर के लिए बेहद जरूरी है।

प्राधिकरण के संभागीय प्रबंधक मो. हासिब रिजवी ने बताया कि हाईवे पर दुर्घटना राेकने, श्मशान घाट पर आवाजाही सुरक्षित बनाने, प्रस्तावित मेडीकल कॉलेज और मंदिरों के कारण हाेने वाली ट्रैफिक गतिविधि काे सुगम बनाने के लिए परिवहन विभाग से साढ़े 3 करोड़ के कार्यों काे कराने की मंजूरी मांगी है। उम्मीद है कि जल्द ही स्वीकृति मिलेगी और शहर में हाईवे के हालात बदलने के लिए जमीनी कार्य किए जाएंगे।

23 जुलाई को प्राधिकरण के चीफ एग्जीक्यूटिव इंजीनियर यानी मुख्य अभियंता आशुतोष मिश्रा सहित 5 अफसरों की टीम ने नगर की आबादी वाले क्षेत्र में हाईवे का मुआयना कर 5 जरूरी कार्यों को चिन्हित किया था। नेवज नदी के बड़े पुल से लेकर कुंडक्या नाले तक निरीक्षण के दौरान पूरे समय विधायक बापूसिंह तंवर भी साथ थे। उन्होंने यहां की जमीनी समस्याएं दल काे बताई थीं।

विधायक का आरोप है फोरलेन निर्माण में अधूरे छाेड़े काम, बढ़े हादसे

इसलिए स्वीकृति मिलेगी... प्राधिकरण ने बताए हैं ये 4 कारण

  • 1. दुर्घटनाएं : आबादी क्षेत्र में सड़क दुर्घटनाएं हो रही है। विधायक तंवर ने 7 जुलाई को टोल प्लाजा पर धरना देकर मौतों के लिए प्राधिकरण की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराया था।
  • 2. श्मशान घाट : श्मशान घाट से आने-जाने के लिए नेशनल हाईवे का उपयोग होता है। अंतिम यात्रा में शामिल होने वाले लोग असुरक्षित रहते हैं।
  • 3. सार्वजनिक स्थल : हाईवे से प्रमुख अंजनीलाल मंदिर, उद्भव नगर, संकट मोचन व कलेक्ट्रेट पर लोगों की आवाजाही रहती है। इनके लिए सर्विस रोड जरूरी है।
  • 4. शहर में बनने वाले मेडीकल कॉलेज की लोकेशन संकट मोचन बल्डी पर रहेगी। यहां जाने के लिए नेशनल हाईवे का ही उपयोग होगा। लोगों की आवाजाही दिन-रात रहेगी।
  • गति नियंत्रित होगी, नाली, चैंबर सुधारेंगे
  • खिलचीपुर नाके से बस स्टैंड के बीच सुरक्षित स्थान पर सर्किल बनाकर लेन क्रॉसिंग व स्पीड ब्रेकर से वाहनों की गति नियंत्रित करेंगे।
  • आबादी क्षेत्र में हाईवे किनारे बनी नालियों के खुले चेंबर दुरुस्त करेंगे। क्षतिग्रस्त नालियों को फिर से बनाएंगे।

विधायक ने एफआईआर के लिए दिया था आवेदन

विधायक बापूसिंह तंवर का आरोप है कि नेशनल हाईवे फोरलेन बनाने के साथ ही कई काम अधूरे छोड़ दिए हैं। फिर भी 4 साल से टोल वसूली की जा रही है। अधूरे कार्यों की वजह से हादसे हो रहे हैं। इस लापरवाही के पीछे उन्होंने 7 जुलाई को कोतवाली में आवेदन देकर एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। इसी दौरान टोल बूथ पर धरना भी दिया था।

उम्मीद है जल्दी स्वीकृति मिल जाएगी

राजगढ़ में आबादी के हाईवे पर कार्ययोजना में चिन्हित काम कराने के लिए केंद्र सरकार के सड़क परिवहन विभाग के क्षेत्रीय अधिकारी को साढ़े 3 करोड़ रुपए का प्रस्ताव भेज दिया है। स्वीकृति के लिए 4 जरूरी वजह भी बताई हैं। उम्मीद है जल्दी स्वीकृति मिल जाएगी। टेंडर भी वही जारी करेंगे, हम काम कराएंगे।
-माे. हासिब रिजवी, संभागीय प्रबंधक, मप्र सड़क विकास प्राधिकरण, भोपाल।

यह प्रमुख 5 काम कराए जाएंगे, जानिए... इनसे ये लाभ हाेंगे

  • 1. 150 मीटर सर्विस राेड बनेगी: 150 मीटर लंबाई में सर्विस रोड बनाएंगे। इनमें श्मशान, खिलचीपुर नाके के दायीं तरफ से कलेक्टोरेट कार्यालय, संकट मोचन बस्ती सहित अन्य पहुंच मार्ग शामिल हैं।
  • यह लाभ हाेगा : सर्विस रोड बनने के बाद शहर के स्टेडियम रोड से सीधे सर्विस रोड के जरिए कलेक्ट्रेट, हाईवे के किनारे होकर श्मशान घाट व आसपास की रिहायशी बस्ती में अवागमन कर सकेंगे। इससे लोकल ट्रैफिक कम होगा।
  • 2. 250 मीटर फोरलेन का विस्तार हाेगा: मछली बाजार फोरलेन से नेवज के बड़े पुल तक 250 मीटर टू-लेन काे फोरलेन बनाया जाएगा। अभी फोरलेन से अचानक ट्रैफिक टू-लेन पर आता है जिससे समस्या हाेती है।
  • यह लाभ हाेगा : अभी नेवज नदी के बड़े पुल के पास टू-लेन सड़क मार्ग पर घुमाव है। इस मोड़ पर फोरलेन बनने से यहां हो रहे हादसों को रोकने में मदद मिलेगी।
  • 3. डिवाइडर में हाेगा पाैधराेपण, जाली भी लगेगी: आबादी क्षेत्र से गुजरे हाइवे के डिवाइडर में पौधरोपण किया जाएगा। इसके साथ ही चैनलिंग वायरलेस जाली लगाकर पौधों की सुरक्षा करेंगे।
  • यह लाभ हाेगा : दाेनाें लेन पर ट्रैफिक सुरक्षित हाेगा, साैंदर्यीकरण भी किया जाएगा।
  • 4. यात्रियाें की सुविधा के लिए बस शेल्टर बनेंगे: बस स्टैंड पर यात्री बसों के लिए बस शेल्टर बनाएंगे, ताकि सवारियां बैठाते-उतारते वक्त हाईवे से वह सुरक्षित दूरी पर रहे।
  • यह लाभ हाेगा : अभी बसाें से सफर वाले यात्री हाइवे किनारे बसाें में चढ़ने-उतरते हैं। इसमें बनी रहने वाली हादसे की आशंका कम हाेगी।
  • 5. खिलचीपुर नाके से ब्यावरा नाके तक लेन क्रासिंग बनेगी: खिलचीपुर नाके से ब्यावरा नाके के बीच सुरक्षित स्थान पर कट पॉइंट बनाकर लेन क्रॉसिंग बनाएंगे। स्थान चयन का कार्य यातायात सुरक्षा समिति करेगी।
  • यह लाभ हाेगा : खिलचीपुर नाके से ब्यावरा नाके के बीच सर्किल बनने से वाहन चालकों को डेढ़ किमी चक्कर लगाकर लेन क्रॉसिंग की समस्या से मुक्ति मिलेगी।
खबरें और भी हैं...