पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पार्क न रहने से असुविधा:पचाेर में 35 हजार आबादी काे घूमने मनाेरंजन के लिए एक भी पार्क नहीं

राजगढ़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • स्वास्थ्य के प्रति बढ़ी लाेगाें में जागरूकता, पर सड़कों पर घूमना पड़ रहा

कस्बे की आबादी लगभग 35 हजार है लेकिन स्थानीय लोगों के लिए एक भी पार्क विकसित नहीं किया गया है। इसके कारण लोग सुबह-शाम सड़कों पर ही वॉक करने जाते हैं। कोरोना जैसे वायरस से लड़ने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता की बहुत आवश्यकता होती है और इसी को ध्यान में रखते हुए लोग अपने स्वास्थ्य के प्रति बहुत सतर्क हो गए हैं। इसलिए ही प्रतिदिन सुबह-शाम वॉक करने के लिए सड़कों का ही उपयोग करते हैं। वॉक करते समय लोगों के साथ दुर्घटनाओं की आशंकाएं भी बनी रहती है।

स्थानीय लोगों का कहना है कि यह परेशानी वर्षों से है। हमने पार्क निर्माण के लिए आवाज भी उठाई। लेकिन प्रशासन के पास इसका कोई जवाब नहीं है। विजय सोलंकी, रंजीत शर्मा, कुलदीप जायसवाल, रघुवीर अवस्थी आदि ने बताया कि कोरोना के दौरान नगर में किसी हरे-भरे पार्क की कमी सबसे ज्यादा महसूस हुई। जब हमने अपने आसपास के कई लोगों को कोरोना से दम तोड़ते हुए और दूसरे लोगों को इन मौतों से डर कर शुद्ध ऑक्सीजन के लिए परेशान होते हुए देखा तो मन में बहुत दुख हुआ। लेकिन इस समस्या को दूर करने का स्थानीय प्रशासन के पास कोई उपाय नहीं था क्योंकि नगर में एेसी कोई सार्वजनिक जगह है ही नहीं। इसलिए अब देर ना करते हुए एक से ज्यादा संख्या में सार्वजनिक पार्क बनाया जाना बहुत जरूरी है।

लोग वॉक के लिए इन जगहों की सड़कों का करते हैं उपयोग
मॉर्निंग वॉक और इवनिंग वॉक के लिए बुजुर्ग, युवा, वयस्क, महिलाएं और बच्चें पानिया रोड, रेलवे स्टेशन रोड, बोड़ा रोड, शुजालपुर रोड आदि का उपयोग करते हैं। इसके अलावा नगर में कई वर्षों से दर्जन भर से ज्यादा कॉलोनियां विकसित हुई है। लेकिन लगभग सभी कॉलोनियों में पार्क की जगह छोड़ रखी है। लेकिन पार्क नहीं बनाए गए। यहां तक की बच्चों के लिए भी झूले जैसे मनोरंजक साधन नहीं है।
लाेगाें ने कहा- नगर में पर्याप्त जगह, नगर पालिका दे ध्यान

यहां विकसित किए जा सकते हैं पार्क
ऐसा नहीं है कि पार्क विकसित करने के लिए जगह काे अभाव हाे। कस्बे में पार्क विकसित करने के लिए बालाजी नगर, शिवालय रोड और पुरानी पचोर आदि जगह उपयुक्त है। इसके बाद भी इस ओर नगर पालिका की ओर से अब तक कदम नहीं उठाए गए।

जगह का चयन कर विकसित करेंगे पार्क

  • पार्क विकसित करने के लिए जल्द ही कार्य योजना बनाई जाएगी और इसके लिए जगहों का भी चयन किया जाएगा। -कुंवर कोठार, विधायक, सारंगपुर।

जो भी निर्देश मिलेंगे, वैसे काम करेंगे

  • पार्क के संबंध में हमें वरिष्ठ अधिकारियों से जो भी निर्देश मिलेंगे वैसे काम करेंगे। -पवन मिश्रा, सीएमओ, नपा, पचोर।
खबरें और भी हैं...