सीहोर में लापरवाह खाकी:एक चोरी को 2 महीना तो दूसरी चोरी को 15 दिन, लेकिन न FIR लिखी, न आरोपी को पकड़ा

सीहोर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सीहोर में 15 दिन पहले चोरी हुआ थे तार। - Dainik Bhaskar
सीहोर में 15 दिन पहले चोरी हुआ थे तार।

जिले में नए साल की शुरूआत में ही नवागत एसपी मयंक अवस्थी ने जिले को अपराध मुक्त बनाने के लिए अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दिए थे। वहीं आमजन को भी भरोसा दिलाया था कि पीड़ितों की अब थानों में जल्द सुनवाई होगी। रिपोर्ट के लिए उन्हें यहां वहां भटकना नहीं पड़ेगा। इसके लिए पीपुल फ्रेंडली रजिस्ट्रेशन की शुरूआत की गई थी। समस्त थाना प्रभारियों को निर्देश दिए गए थे कि थानों में आने वाले फरियादियों की एफआईआर कम से कम समय में लिखी जाए। लेकिन एसपी की इस मुहिम का असर थानों पर दिखाई नहीं दे रहा है। इसका उदाहरण है चोरी के एक मामले में फरियादी एक पखवाड़े से कोतवाली थाने के चक्कर लगा रहा है। लेकिन अभी तक रिपोर्ट नहीं लिखी गई।

बिजली के ठेकेदार करूणेश मालवीय ने बताया कि शहर के आरएके कालेज के पास बिजली की 33 केवी लाइन डाली जा रही है। 30 दिसम्बर को जो सामग्री रखे थे, लेकिन 31 दिसम्बर की रात अज्ञात चोर 7 गाले के तार यानी कि 4 क्विंटल तार काट कर ले गए। जिसकी कीमत करीब सवा लाख रुपए है। बिजली ठेकेदार मालवीय कहना है कि एक जनवरी को वह थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए गए थे। लेकिन उनसे कहा गया कि आप सादे कागज पर शिकायत कीजिए जांच के बाद रिपोर्ट लिखी जाएगी। लेकिन घटना के करीब 15 दिन बीत जाने के बाद भी उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। थाने में बताया जाता है कि जांच कर रहे हैं। लेकिन एफआईआर नहीं लिखी जाती।

पटाखे दुकान पर हुई थी चोरी

दीपावली के दौरान शहर के बीएसआई मैदान में पटाखों की दुकानें लगी थीं। दीवाली के दिन यहां से एक अज्ञात चोर ने पवन अरोरा की दुकान पर रखे गल्ले पर हाथ साफ किया। जिसमें करीब 40 हजार रुपए रखे थे। जिसकी शिकायत कोतवाली थाने में की गई। पीड़ित पटाखा व्यापारी पवन अरोरा ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि गल्ले से जिस युवक ने पैसे निकाले थे, उसे आसपास के दुकानदारों ने देखा था। इसकी जानकारी भी कोतवाली पुलिस को दी थी। दो महीने बीतने के बाद भी चोर पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।

कोतवाली थाने के TI नलिन बुधौलिया ने बताया कि तार चोरी की शिकायत पर पुलिस बारीकी से जांच कर रही है। लोगों से पूछताछ जारी है। FIR लिखी जाएगी।