CM को भाया गांव का खाना:चने की भाजी, गिल्की की सब्जी, दाल के साथ मक्के और ज्वार की रोटी खाई, बोले - मजा आ गया

सीहोर9 महीने पहले

चने की भाजी, गिल्की की सब्जी, दाल के साथ मक्के और ज्वार की रोटी खाकर आनंद आ गया। यह भोजन नहीं, बारेला परिवार का प्रेम मिला हुआ था। मैं बहुत संतुष्ट हूं, इस गांव ने मुझे हमेशा प्रेम किया है। ये शब्द थे, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के। उन्होंने शनिवार को सीहोर जिले के सिराली गांव में श्रीराम बारेला के घर भोजन किया। श्रीराम बारेला ने कहा कि हम मुख्यमंत्री की सहजता और सरलता के कायल हैं। वे हमें अपने परिवार के सदस्य की तरह ही लगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सिराली गांव में 23 करोड़ 75 लाख रुपए के निर्माण कार्यों का भूमिपूजन किया। मुख्यमंत्री ने कहा- प्रदेश के साथ ही इस क्षेत्र के विकास में कोई कोर-कसर नहीं छोडूंगा। हमने कोरोनाकाल में लोगों के इलाज के लिए समुचित व्यवस्था की, मेरी पूरी कोशिश रही कि कोविड से किसी की जान नहीं जाए।

कोविड काल के बाद प्रदेश के विकास को गति दी है। पूरे प्रदेश में सड़कें, सिंचाई, स्वास्थ्य, शिक्षा, पेयजल से जुड़ी अनेक योजनाओं पर काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि सिराली क्षेत्र के किसानों के खेतों तक पानी पहुंचाने की योजना पर भी काम चल रहा है।

सीहोर जिले के सिराली गांव में श्रीराम बारेला के घर सीएम ने भोजन किया।
सीहोर जिले के सिराली गांव में श्रीराम बारेला के घर सीएम ने भोजन किया।

सीएम बोले - हर घर तक नल से पानी पहुंचे

सीएम ने कहा- मेरा पूरा प्रयास है कि हर गांव में सिंचाई के लिए पानी पहुंचे और पेयजल योजनाओं के माध्यम से हर गांव, हर घर तक नल से पानी पहुंचे। उन्होंने बताया कि किसानों को सिंचाई के लिए बिजली बिल में राहत देने के लिए 53 हजार रुपए सरकार द्वारा भुगतान किया जाता है, जबकि किसान को केवल 3600 रुपए बिजली बिल जमा करना होता है। हमने किसानों के लिए किसान सम्मान निधि योजना बनाई।

इसके तहत प्रधानमंत्री द्वारा 6 हजार रुपए और प्रदेश सरकार द्वारा 4 हजार रुपए दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा - इस क्षेत्र के बच्चे पढ़ाई करें और आगे बढ़ें। इसके लिए मेडिकल एवं तकनीकी संस्थानों में प्रवेश लेने पर फीस प्रदेश सरकार देगी।

इन निर्माण कार्यों का किया भूमिपूजन

  • सिराली गांव के लिए सिराली से सनकोटा तक 7.5 किलोमीटर मार्ग के लिए 13 करोड़ 5 लाख 91 हजार रुपए स्वीकृत किए।
  • पिपलानी से आमलापानी तक 6 किलोमीटर मार्ग के लिए 9 करोड़ 96 लाख 92 हजार रुपए की राशि स्वीकृत की।
  • सामाजिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए सामुदायिक भवन का निर्माण 12 लाख रुपए की लागत से होगा।
  • बच्चों के खेलने के लिए 3 लाख 20 हजार रुपए से खेल मैदान बनेगा।
  • आंगनबाड़ी भवन के लिए 9 लाख 50 हजार रुपए की स्वीकृति दी गई।
  • किसानों के खेतों को समतल करने के लिए खेत, सड़क, मेढ़ बंधन के लिए 57 लाख 34 हजार रुपए स्वीकृत।
  • मिडिल स्कूल के नए भवन के लिए 24 लाख 72 हजार, प्राइमरी भवन के लिए 20 लाख 50 हजार रुपए दिए।
  • गांव में पाइप लाइन द्वारा पेयजल के लिए 15 लाख रुपए स्वीकृत किए।