पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ये व्यवस्था पुरानी:10 और 14 मई को खुलेंगी आटा चक्की और कीटनाशक दुकानें

सीहोरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अब 17 मई की सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू
  • दूध की दुकानें सुबह-शाम 1-1 घंटे के लिए खुलेंगी

प्रदेश स्तर पर हुए निर्णय के बाद जिले में भी कोरोना कर्फ्यू आगे बढ़ा दिया गया है। कलेक्टर अजय गुप्ता ने शुक्रवार को आदेश जारी करते हुए जिले में कोरोना कर्फ्यू 17 मई की सुबह 6 बजे तक बढ़ाने के आदेश जारी किए हैं। इस दौरान जिले में 10 और 14 मई को ही सुबह 9 से 11 बजे तक आटा चक्की और कीटनाशक दुकानें खुली रहेंगी। दूध की दुकानें, मिल्क पार्लर और डेयरी आदि प्रत्येक दिन सुबह 7 से 8 और शाम 6 से 7 बजे तक ही खुलेंगी।
ऐसे बढ़ता गया कोरोना कर्फ्यू
जिले में कोरोना कर्फ्यू के आदेश जिला दंडाधिकारी ने 15 अप्रैल की रात 10 बजे से लागू होने के आदेश जारी किए थे। इस दौरान किराना, दूध, फल सब्जियां आदि सुबह 7 बजे से 11 तक खोलने की राहत दी गई थी । इसके बाद इसकी अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ाई गई और लोगों की दी गई राहत में कटौती की गई।

पिछले दिनों कलेक्टर अजय गुप्ता ने कोरोना कर्फ्यू 8 मई की सुबह 6 बजे तक बढ़ाने का आदेश जारी किया। लेकिन अब फिर से शुक्रवार को आदेश जारी करते हुए कोरोना कर्फ्यू 17 मई की सुबह 6 बजे तक लागू करने के आदेश दिए। इस दौरान आटा चक्की और कीटनाशक दवाइयों की दुकानें 10 और 14 मई को खोलने की राहत दी गई है।

एक नजर में क्या खुला रहेगा और क्या बंद रहेगा

  • दूध की दुकानें, मिल्क पार्लर और डेयरी में दी गई छूट को भी संशोधित करते हुए करते हुए प्रत्येक दिन सुबह 7 से 8 और शाम 6 से 7 बजे तक ही खुलेंगी।
  • जिसमें गली-मोहल्ला और आवासीय कॉलोनियों आदि में ही ठेले के माध्यम से सब्जी विक्रय होगा।
  • समस्त प्रकार के हाट बाजार प्रतिबंधित रहेंगे।
  • शादी समारोह में 20 और अंतिम संस्कार में 10 से अधिक व्यक्ति शामिल नहीं होंगे।
  • अस्पताल, नर्सिंग होम, मेडिकल इंश्योरेंस कंपनीज एवं अन्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाएं खुली रहेंगी।
  • टीकाकरण के लिए आवागमन और टीकाकरण में लगे स्टाफ को आवागमन की अनुमति रहेगी।
  • केमिस्ट/रेस्टोरेंट (केवल टेक होम डिलेवरी के लिए), पेट्रोल पंप, बैंक एवं एटीएम खुले रहेंगे।
  • ऑटो, ई-रिक्शा में दो सवारी, टैक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्राइवर और 2 पैसेंजर को यात्रा करने की अनुमति होगी।
  • सामाजिक/राजनीतिक/खेलकूद/मनोरंजन/शैक्षणिक, सांस्कृतिक/सार्वजनिक तथा धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजनों के लिए लोगों का एकत्रित होना पूर्णत: वर्जित होगा।
  • एबुलेंस, फायर ब्रिगेड, टेली कम्युनिकेशन, विद्युत प्रदाय, रसाई गैस, होम डिलेवरी सेवाएं, दूध एकत्रीकरण वितरण के लिए परिवहन किया जा सकेगा।
खबरें और भी हैं...